आज खुद को ज‍ितना असहाय महसूस क‍िया उतना कभी नहीं क‍िया
इंदौर (प्रेट्र)। हाल ही में ट्वीटर पर एक मॉडल युवती ने मध्‍यप्रदेश इंदौर में अपने साथ हुए एक हादसे का दर्द बयां क‍िया। युवती ने इस दौरान ट्विटर पर अपने पैर में लगी चोट की तस्वीर डाली। इसके साथ ही ल‍िखा क‍ि दो मोटरसाइक‍िल सवाल लड़कों ने मेरी स्कूटी का पीछा किया। इसके बाद उन्‍होंने मेरी स्कर्ट खींचते हुए पूछा कि दिखाओ इसके नीचे क्या है? इस घटना के समय खुद को ज‍ितना असहाय महसूस क‍िया उतना कभी नहीं क‍िया। मैंने इस दौरान उनसे खुद को बचाने के ल‍िए उन्हें रोकने की कोशिश की। ऐसे में मेरा गाड़ी से न‍ियंत्रण बि‍गड़ गया और मुझे चोट आ गई और वे लोग भाग गए। खास बात तो यह है क‍ि युवती ने यह भी बताया क‍ि यह घटना बेहद भीड़ वाले इलाके में हुई। ज‍िस समय उसके साथ यह हादसा हुआ उस समय वहां पर काफी भीड़ थी लेक‍िन कोई भी उसकी मदद के ल‍िए नहीं आया। इस घटना को लेकर पीड़‍िता ने एक नहीं कई और ट्वीट क‍िए। युवती इन ट्वीट में अपने कपड़े पहनने की आजादी से लेकर पुल‍िस कंप्‍लेंट का भी ज‍िक्र क‍िया। उसने कहा क‍ि मैं पुलिस कम्प्लेंट कर रही हूं, पता नहीं पुल‍िस उन्‍हें ढूंढ पाएगी या नहीं। देखते ही ही देखते युवती के ट्वीट तेजी से रीट्वीट क‍िए जाने लगे।

मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इस घटना को शर्मनाक बताया

वहीं सोशल मीड‍िया पर इस मामले के चर्चा में आने के बाद मध्‍यप्रदेश के मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इसे बेहद ही शर्मनाक बताया। इतना ही नहीं उन्‍होंने राज्य के महानिदेशक (डीजीपी) और  इंदौर जिला कलेक्टर को आवश्यक कार्रवाई करने के आदेश द‍िए हैं। वहीं इस मामले को लेकर इंदौर डिप्टी इंस्पेक्टर जनरल (डीआईजी) हरिनारायनचारी ने बताया क‍ि अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ शाम को मामला दर्ज कर ल‍िया गया है। पीड़ि‍ता का मेड‍िकल ट्रीटमेंट भी कराया गया। युवती ने बताया क‍ि खुद को संभालने में उसे चोटे आई हैं। इतना ही नहीं उन्‍होंने बताया महिला की शिकायत के आधार पर आईपीसी की धारा 354 के तहत मामला दर्ज किया गया है। वहीं इसके बाद इस घटना की जांच के ल‍िए एक पांच सदस्यीय विशेष टीम गठ‍ित की गई है। यह टीम पुलिस अधीक्षक (सीएसपी) के नेतृत्‍व में घटना की जांच करेगी। पुल‍ि‍य अभ‍ियुक्‍तों की तलाश में व‍िजय नगर इलाके में लगे सीसीटीवी कैमरों से भी मदद ले रही है।

बि‍गड़ने न पाए शहर की कानून-व्‍यवस्‍था, 25 अप्रैल को जोधपुर सेंट्रल जेल में सुनाया जाएगा आसाराम पर फैसला

इस साल हज पर 1.75 लाख भारतीयों के जाने का बनेगा र‍िकॉर्ड, बगैर मेहरम जाएंगी 1308 महिलाएं, जानें क्‍या है ये 'मेहरम'

National News inextlive from India News Desk