jamshedpur@inext.co.in

JAMSHEDPUR: पूर्वी सिंहभूम जिले के पोटका थाने में पदस्थापित एएसआइ देवेंद्र कुमार को भ्रष्टाचार विरोधी दस्ता (एसीबी) ने बुधवार को घूस लेते गिरफ्तार किया. वह पोटका चौक पर बुधवार की दोपहर केस डायरी से नाम हटाने के लिए नौ हजार रुपये ले रहा था. एसीबी की टीम ने गिरफ्तार एसएसआइ को पोटका थाने में लाकर कागजी कार्रवाई करने के बाद जमशेदपुर लेकर चली गई. जानकारी के मुताबिक, डेढ़ माह पूर्व पोटका प्रखंड क्षेत्र के जुडी में हुई सड़क हादसा मामले में पावरू निवासी शंभू पात्रों को आरोपित किया गया था.

की थी नौ हजार रुपये की मांग
मामले में शंभू पात्रों का नाम केस डायरी से हटाने के लिए एएसआइ देवेंद्र कुमार ने नौ हजार रुपये की मांग की थी. जिसकी शिकायत उसने जमशेदपुर स्थित सोनारी एसीबी कार्यालय में की थी. जिसकेबाद एसीबी ने जितेन्द्र दूबे के नेतृत्व में टीम गठित की थी. टीम ने बुधवार को पोटका पहुंचकर एक रणनीति के तहत कार्रवाई करते हुए घूसखोर एएसआइ को रंगेहाथ गिरफ्तार कर लिया.

होगी मामले की कार्यवाई
इधर, ग्रामीण एसपी सुभाष चंद्र जाट ने कहा कि एएसीबी के हत्थे चढ़े एएसआइ के खिलाफ विभागीय जांच के बाद कार्रवाई की जाएगी. मामले में जांच पूरी होने के बाद ही मामले पर्दा उठेगा. इस मामले में पोटका थाना प्रभारी जितेन्द्र राम ने कहा कि मामला थाना कैम्पस के बाहर का है. गिरफ्तारी के पीछे की हकीकत से अवगत नहीं हूं. आरोपित एएसआइ देवेन्द्र कुमार ने छह माह पहले ही थाने में योगदान दिया था.