संगम में स्नान करने के साथ सांस्कृतिक कुंभ में भी डुबकी लगा रहे हैं प्रयागराज आने वाले श्रद्धालु

prayagraj@inext.co.in

PRAYAGRAJ: धर्म और आस्था का केंद्र बना कुंभ मेला देश-दुनिया से आए लोगों को सांस्कृतिक विरासत से भी जोड़ने का काम कर रहा है. यहां संस्कृति विभाग के मंचों पर अलग-अलग सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन हो रहा है.

नृत्य स्वच्छ गंगा का संदेश

भारद्वाज मंच पर लखनऊ की संस्था हेल्पिंग हाट्रर्स फाउन्डेशन ने नृत्य नाटिका पावन धरती, निर्मल गंगा प्रस्तुत किया. कलाकारों ने भावपूर्ण नृत्य के जरिये निर्मल गंगा, स्वच्छ गंगा का संदेश दिया. नृत्य नाटिका का निर्देशन ज्योति किरन सिन्हा ने किया. इसे लोगों ने काफी पसंद किया.

कलाकारों ने सबको मंत्रमुग्ध किया

सेक्टर 4 के अक्षयवट मंच पर शनिवार को दिल्ली के मल्लिक ब्रदर्स ने शास्त्रीय गायन प्रस्तुत किया. मुंबई के विजय पंडित ने सप्तधारा नृत्य प्रस्तुत किया. सप्तधारा नृत्य के बाद असम के उत्पल ज्योति बोरा ने बिहू नृत्य प्रस्तुत किया. प्रयागराज के मनोज कुमार गुप्ता के भजनों ने दर्शकों को भाव-विभोर कर दिया. भारद्वाज मंच पर ही वाराणसी की मंगला विश्वकर्मा ने भोजपुरी लोकगायन प्रस्तुत किया. लखनऊ के गायक कमलाकांत ने भजन प्रस्तुत किए.