- इलेक्शन ड्यूटी में बिजी हुई पुलिस तो बढ़ गईं चोरी की घटनाएं

- चंपा देवी पार्क के पास मकान से लाखों का माल उड़ा ले गए चोर

- खुद न बरती सावधानी तो आप भी हो सकते हैं शिकार

GORAKHPUR: पुलिस के लोकसभा चुनाव ड्यूटी में व्यस्त होने से चोरों की मौज हो गई है। शहर में चोर आए दिन घरों को निशाना बना रहे हैं। शहर से लेकर रुरल एरियाज तक सबसे ज्यादा बंद घर टारगेट बन रहे हैं। चंपा देवी पार्क के पास स्थित एक मकान से चोर दिनदहाड़े लाखों का माल समेट ले गए। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि चोरी की घटनाओं पर अंकुश लगाने के लिए पुलिस गश्त बढ़ाई जाएगी।

दिनदहाड़े ताला तोड़ उड़ा दिया माल

कैंट एरिया के चंपा देवी पार्क के पास रहने वाली नंदिनी पांडेय सरकारी नौकरी में हैं। मंगलवार सुबह नौ बजे अपनी ड्यूटी पर गई थीं। घर पर ताला बंद था। शाम करीब चार बजे जब घर पहुंचीं तो मेन गेट का ताला टूटा हुआ था। कमरे के अंदर देखा तो सामान बिखरा पड़ा था। नंदिनी के अनुसार हीरे और सोने के जेवरात गायब थे। जिनकी कीमत 55 लाख रुपए बताई जा रही है। उधर पुलिस मामले की जांच में लगी है लेकिन अभी तक चोरों का सुराग नहीं मिला है।

बॉक्स

एक ही दिन में चार चोरी

मंगलवार को शादी में शामिल होने बस से मायके जा रही महिला के बैग से दो लाख रुपए के गहने चोरी हो गए तो दूसरी ओर चोर कैंट एरिया के चंपा देवी पार्क स्थित बंद मकान से नकदी समेत ज्वेलरी सहित 55 लाख रुपए का सामान उड़ा ले गए। साथ ही कैंपियरगंज में एक महिला का मोबाइल व पर्स चोरी हो गया। वहीं, गीडा स्थित सेक्टर पांच में प्राइवेट कर्मी ओमप्रकाश के घर में चोरी हो गई। उन्होंने पुलिस को बताया कि जेवरात समेत 60 हजार रुपए चोरी हुए हैं।

बॉक्स

चुनाव तक न रहें पुलिस के भरोसे

चुनाव करीब आते ही जिले की दो तिहाई पुलिस फोर्स की ड्यूटी चुनाव में लगा दी गई हैं। जिले में वैसे भी फोर्स की कमी है। इसलिए भलाई इसी में है कि चुनाव तक पुलिस के भरोसे बिल्कुल न रहें। चोर बंद पड़े मकानों को टारगेट बना रहे हैं। इसलिए घर को खाली न छोड़ें। रात में सोने से पहले पूरे घर का लॉक चेक कर लें। चोरों के लिए कोई लूप होल न छोड़े।

ये बरतें सावधानी

- चोर बंद पड़े मकानों को टारगेट बना रहे हैं इसलिए जब तक बहुत जरूरी न हो घर को खाली न छोड़ें।

- घर में रखे कीमती सामानों की जानकारी बाहरी लोगों से साझा न करें।

- घर से बाहर जाने पर सोने-चांदी के जेवर व अधिक मात्रा में रुपए नहीं छोड़े।

- कीमती सामान बैंक लॉकर में जमा करवा दें या फिर साथ ले जाएं।

- कहीं जाने से पहले पड़ोसी को बताकर जाएं ताकि वह आपके मकान पर हर पल नजर रखें।

- कुछ दिनों के लिए घर से बाहर जाएं तो स्थानीय थाना पुलिस और बीट कांस्टेबल को भी इसकी जानकारी देकर जाएं।

- आप घर में हैं तो प्रतिदिन रात को सोने से पहले अपने घर की पूरी तरह तलाशी ले लें, घर के बाहर-अंदर यह जरूर देख लें कि कहीं कोई छुप कर घात लगाए बैठा तो नहीं है।