कानपुर। भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया के बीच चार मैचों की टेस्ट सीरीज का पहला टेस्ट टीम इंडिया के नाम रहा। कप्तान विराट कोहली की अगुआई में भारत ने एडीलेड में खेला गया पहला टेस्ट 31 रनों से जीत लिया। भारत की इस जीत के हीरो दाएं हाथ के मध्यक्रम बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा रहे जिन्होंने मैच में शानदार शतक लगाकर भारत को जीत के लायक बनाया। दरअसल पुजारा ने पहली पारी में 123 और दूसरी पारी में 71 रन बनाए, जिसके दम पर टीम इंडिया मेजबान ऑस्ट्रेलिया को कड़ी टक्कर दे पाई। पुजारा की इस मैच विनिंग पारी के चलते उन्हें मैन ऑफ द मैच मिला। इसी के साथ पुजारा ने 15 साल पुराना इतिहास दोहरा दिया।

द्रविड़ और पुजारा में ये है समानता
एडीलेड टेस्ट में जीत के बाद बीसीसीआई ने एक ट्वीट कर पुजारा की बैटिंग की तुलना पूर्व भारतीय क्रिकेटर राहुल द्रविड़ से की। दरअसल एडीलेड में भारत ने इससे पहले साल 2003 में जीत दर्ज की थी। भारत ने यह मैच चार विकेट से जीता था और इस जीत के हीरो राहुल द्रविड़ थे जिन्होंने मैच में शानदार दोहरा शतक जड़ा था। भारत के जीतने पर द्रविड़ को मैन ऑफ द मैच मिला, तब द्रविड़ भी तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी करते थे। इस बार यही काम पुजारा ने किया। वह भी तीसरे नंबर पर खेलने आए और मैन ऑफ द मैच का पुरस्कार ले गए।

द्रविड़ जैसे हैं पुजारा के रिकाॅर्ड
ऑस्ट्रेलिया में पुजारा को यह पहला टेस्ट शतक है। वहीं ओवरऑल उनके शतकों की संख्या 16 हो गई। यही नहीं कंगारुओं के खिलाफ यह शतकीय पारी खेल पुजारा ने नया रिकाॅर्ड अपने नाम कर लिया। टेस्ट में अब पुजारा के 5000 रन हो गए हैं। पिछले आठ साल से टेस्ट क्रिकेट खेल रहे पुजारा के करियर में ऐसे कई मौके आए जब उन्होंने पूर्व भारतीय बल्लेबाज राहुल द्रविड़ की बराबरी की। क्रिकइन्फो पर मौजूद डेटा के मुताबिक, द्रविड़ ने जहां 3000 टेस्ट रन बनाने के लिए 67 पारियां खेलीं थी तो पुजारा ने भी इतनी ही पारियों में यह मुकाम हासिल किया। इसके अलावा 4000 रन बनाने के लिए द्रविड़ और पुजारा दोनों ने 84-84 पारियां खेलीं और अब 5000 टेस्ट रन पूरे करने के लिए पुजारा को 108 पारियां खेलनी पड़ीं तो द्रविड़ ने भी इतनी ही पारियां खेलकर यह कीर्तिमान अपने नाम किया था।

Ind vs Aus : ये खिलाड़ी बन रहा टीम इंडिया की नई दीवार, द्रविड़ जैसे हैं इनके आंकड़े

Cricket News inextlive from Cricket News Desk