रांची (पीटीआई)। भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया के बीच पांच मैचों की वनडे सीरीज का तीसरा वनडे शुक्रवार को रांची में खेला जाएगा। धोनी का अपने घरेलू मैदान पर शायद ये आखिरी वनडे हो। ऐसे में माही के चाहने वाले अपने हीरो को देखने भारी संख्या में स्टेडियम पहुंचेंगे। धोनी आज भले ही बड़े क्रिकेट सितारे हैं मगर उन्होंने अपने क्रिकेट करियर की शुरुआत रांची से ही की थी। माही से जुड़ी यादों को उनके गुरु आज तक संजोए रखे हैं। धोनी को क्रिकेट की एबीसीडी सिखाने वाले बनर्जी सर की मानें तो वह धोनी के जैविक पिता नहीं बल्कि पिता समान जरूर हैं। बनर्जी आगे कहते हैं, 'वह (धोनी) काफी शर्मीला लड़का था और आज भी है। वह अपनी भावनाओं को हमेशा हंसी के पीछे छुपा लेता है। उसे पता था कि क्रिकेट उसे वो सब कुछ दे सकता है जो वह पाना चाहता था।'
कप्तान बनने के बाद रांची में अपने गुरु के सामने जमीन पर बैठते थे धोनी
जमीन पर बैठ जाते थे माही

बनर्जी सर के अलावा रांची स्थित मेकोन स्टेडियम के प्रभारी उमा कांत जेन भी धोनी को करीब से जानते हैं। जेन ने 1985 में धोनी का तब पहली बार देखा था जब वह साढ़े तीन साल के थे। जेना गुजरे हुए पल को याद करते हुए कहते हैं, 'यह काॅलोनी का दरवाजा है और माहिया (वह धोनी को आज भी इसी नाम से बुलाते हैं) प्लाॅस्टिक के बैट-बाॅल लेकर घूमा करता था। किसी ने नहीं सोचा था वह इतना कुछ हासिल कर लेगा। टीम इंडिया का कप्तान बनने के बाद वह मेरे घर पर एक बार आया था। धोनी ने मेरे बेटे विजय को एक बैट और ग्लव्स दिए थे। और अच्छा प्रदर्शन करने पर पूरी किट देने का वादा भी किया था।' जेना को आज भी धोनी की एक बात याद है। वह कहते हैं, 'आपको पता है सबसे शर्मनाक क्या था। धोनी मेरे घर पर जमीन पर बैठ गया था जबकि मैं कुर्सी पर बैठाउ था। मैंने उसे ऐसा न करने के लिए कहा, मगर उसने मेरी बात नहीं सुनी।'

तुम सिंह हो या धोनी

महेंद्र सिंह धोनी के नाम को लेकर उनकी स्कूल मैडम को काफी कंफ्यूजन रहता था। जवाहर विद्या मंदिर की रिटायर्ड टीचर सुषमा शुक्ला कहती हैं, 'वह काफी शांत बच्चा था। मैंने सातवीं और आठवीं में उसे बाॅयोलाजी पढ़ाया है। मुझे याद है कि मैंने उससे पूछा था कि, महेंद्र तुम सिंह हो या धोनी?उसे यह सवाल बिल्कुल भी अच्छा नहीं लगता था मगर वह जवाब देता था, 'मैडम हम सिंह भी हैं और धोनी भी।'

धोनी ने टीम इंडिया को अपने घर पर खिलाया खाना, सामने आई तस्वीर

माही ने 'धोनी पवेलियन' का उद्घाटन करने से किया मना, कह दी इतनी बड़ी बात

Cricket News inextlive from Cricket News Desk