आरटीआई के तहत मिली जानकारी
मुंबई के सूचना अधिकार (आरटीआइ) कार्यकर्ता अजय मराठे ने विदेश मंत्रालय से विभिन्न देशों में भारतीय मिशनों पर होने वाले वार्षिक खर्च का ब्योरा मांगा था. मंत्रालय द्वारा उपलब्ध कराई जानकारी के मुताबिक, 2011-12 में सरकार ने ब्रिटेन में अपने उच्चायोग पर पर 58 करोड़ रुपये ज्यादा खर्च किए, वहीं सऊदी अरब के जेद्दा स्थित भारतीय दूतावास का कुल खर्च 45.63 करोड़ रुपये रहा.   

पेरिस दूतावास पर 36.38 करोड़ रुपये खर्च
2011-12 में ही काबुल में भारतीय दूतावास पर 39.09 करोड़ रुपये और पेरिस स्थित दूतावास पर 36.38 करोड़ रुपये खर्च हुए थे. भारतीय मिशनों पर वार्षिक खर्च के आंकड़ों पर नजर डालने से पता चलता है कि 2011-12 में सरकार ने 1497.95 करोड़ रुपये, 2010-11 में 1386.95 करोड़ रुपये जबकि 2009-10 में 1374.48 करोड़ रुपये खर्च किए. इन वर्षों के दौरान भी ब्रिटेन में भारतीय उच्चायोग पर सबसे ज्यादा खर्च हुए थे.

National News inextlive from India News Desk