सिर्फ दो टीमों के नाम है ये रिकॉर्ड
कानपुर। अफगानिस्तान टेस्ट दर्जा हासिल करने वाली विश्व की 12वीं टीम है। अफगानिस्तान को पिछले साल टेस्ट नेशन की परमीशन मिली और अब बेंगलुरु में भारत के खिलाफ इस टीम ने टेस्ट सफर शुरु कर दिया है। 14 जून से शुरु हुए इस टेस्ट मैच को अभी दो दिन हुए हैं और अफगानिस्तान की हालत काफी खराब है। अफगान टीम पर पारी की हार का खतरा मंडरा रहा है, हालांकि क्रिकेट एक्सपर्ट ने इसकी उम्मीद भी की थी क्योंकि टेस्ट में नंबर 1 भारतीय टीम को हरा पाना नई नवेली अफगानिस्तान के लिए आसान नहीं था। खैर अगर अफगान अपने पहले टेस्ट में हार जाती है, तो यह बाकी कि 10 टीमों में शामिल हो जाएगी जिन्हें टेस्ट डेब्यू में पराजित होना पड़ा था। ईएसपीएन क्रिकइन्फो के डेटा के मुताबिक, ऑस्ट्रेलिया और जिंबाब्वे सिर्फ दो टीम ऐसी हैं जिन्हें टेस्ट डेब्यू में हार का सामना नहीं करना पड़ा था।

ऑस्ट्रेलिया - (1877)

क्रिकेट इतिहास में पहला टेस्ट मैच साल 1877 में ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच मेलबर्न में खेला गया था। इस मैच के साथ ही दोनों टीमों ने अपने टेस्ट सफर की शुरुआत की थी। पहले मैच में ऑस्ट्रेलिया ने इंग्लैंड को 45 रन से हरा दिया था। तब से लेकर अब तक कंगारू टीम ने कुल 812 टेस्ट मैच खेल लिए जिसमें 383 में उसे जीत मिली जबकि 219 मैच गंवाने पड़े। वहीं 208 मैच ड्रा रहे और 2 मैच टाई पर छूटे। दूसरी तरफ इंग्लैंड की बात करें तो इस टीम ने 999 टेस्ट मैच खेले जिसमें 357 में जीत और 297 में हार का सामना करना पड़ा। वहीं 345 मैच ड्रा रहे।

जिंबाब्वे - (1992)
साल 1992 में जिंबाब्वे ने भारत के खिलाफ टेस्ट की शुरुआत की थी। पहला मैच हरारे में खेला गया और यह ड्रा रहा था। ऑस्ट्रेलिया के बाद जिंबाब्वे दूसरी ऐसी टीम है जिसे पहले मैच में हार नहीं मिली। इस टीम ने अब तक कुल 105 मैच खेले जिसमें उन्हें 11 में जीत मिली जबकि 67 मैच हार गए। वहीं 27 मैच ड्रा पर छूटे।

भारत भी हार गया था पहला मैच
भारतीय क्रिकेट टीम ने अपने टेस्ट सफर की शुरुआत 1932 में की थी। सीके नायडू की कप्तानी में भारत ने लॉर्ड्स मैदान पर अपना पहला टेस्ट इंग्लैंड के खिलाफ खेला था। पहले ही टेस्ट में भारत को 158 रन से करारी शिकस्त झेलनी पड़ी थी। तब से लेकर अब तक टीम इंडिया ने कुल 521 टेस्ट मैच खेले, जिसमें 144 में भारत को जीत मिली वहीं 160 मैचों में हार का सामना करना पड़ा। 216 मैच ड्रा रहे और एक मैच टाई पर छूटा।

पाकिस्तान का भी ऐसा ही था हाल

एक तरफ जहां भारत को अपने पहले टेस्ट में हार झेलनी पड़ी तो उनके खिलाफ जिस टीम ने पहला मैच उसे भारत ने जीतने नहीं दिया। भारत को टेस्ट दर्जा मिलने के बाद पाकिस्तान पहली टीम थी जिसने भारत के अगेंस्ट टेस्ट सफर की शुरुआत की। पाकिस्तान क्रिकेट टीम ने अपना पहला टेस्ट 1952 में भारत के खिलाफ खेला था। दिल्ली के फिरोजशाह कोटला मैदान पर खेले गए इस मैच में पाकिस्तान को पारी और 70 रन से करारी हार झेलनी पड़ी थी। तब से लेकर अब तक पाक टीम ने कुल 415 टेस्ट मैच खेल लिए जिसमें 134 में उन्हें जीत मिली और 123 में हार। वहीं 158 मैच ड्रा रहे।

भारत-अफगानिस्तान टेस्ट : जानें किस देश ने कब खेला था अपना पहला टेस्ट


एक भारतीय जो इंग्लैंड जाकर उनकी क्रिकेट टीम से 12 टेस्ट मैच खेल आया

Cricket News inextlive from Cricket News Desk