दो दिन में जीत गया भारत
कानपुर। अफगानिस्तान के खिलाफ ऐतिहासिक टेस्ट में भारत ने दो दिन में ही जीत दर्ज कर ली। 86 साल के इतिहास में पहली बार हुआ है जब भारत कोई टेस्ट मैच दो दिन में जीता है। शुक्रवार को बेंगलुरु के एम चिन्नास्वामी स्टेडियम में भारत ने अफगान टीम को एक पारी और 262 रन से हरा दिया। पहली पारी में भारत ने 474 रन बनाए थे, जिसके जवाब में अफगानिस्तान की पहली पारी 109 और दूसरी पारी 103 रन पर सिमट गई। इसी के साथ 14 जून को शुरु हुआ ये टेस्ट मैच 15 को खत्म हो गया और अफगानिस्तान को पहले ही टेस्ट में हार का मुंह देखना पड़ा।

मैदान पर दिखा अनोखा नजारा
मैच के बाद विजेता कप्तान अजिंक्य रहाणे को ट्रॉफी दी गई, मगर उन्होंने फोटो सेशन से पहले अफगान टीम के सभी खिलाड़ियों को बुला लिया। फिर दोनों टीमों के सदस्यों ने एक साथ मिलकर ट्रॉफी के साथ फोटो खिंचाई। कप्तान रहाणे तो अफगानिस्तान के खिलाड़ियों के बीच खड़े हो गए थे। क्रिकेट जगत में ऐसा शायद पहली बार देखने को मिला हो जब हारने वाली और जीतने वाली टीम ने साथ फोटो खिंचवाई। बीसीसीआई ने टि्वटर पर इस पूरे वाक्ये का वीडियो भी पोस्ट किया।

ऐसे सिमटी अफगानिस्तान की पारी
भारतीय टीम के पहली पारी के 474 रन  के जवाब में बल्लेबाजी करने उतरी अफगान टीम की शुरुआत अच्छी नहीं रही और मात्र 15 के स्कोर पर उसके सलामी बल्लेबाज मोहम्मद शहजाद 14 रन बनाकर रन आउट हो गए। उसके बाद दूसरे सलामी बल्लेबाज जावेद अहमदी भी ज्यादा देर नहीं टिक पाए और इशांत शर्मा की गेंद पर क्लीन बोल्ड हो गए। उन्होंने 8 गेंद खेलकर 1 रन बनाया। उमेश यादव ने रहमत शाह को एलबीडब्ल्यू आउट कर अपना टेस्ट मैच में अपना सौवां शिकार किया।इसके बाद अगले ही ओवर में इशांत शर्मा ने अफसर जाज़ई को क्लीन बोल्ड कर भारत को चौथी सफलता दिलाई।इसके बाद बल्लेबाजी करने आए कप्तान स्टॉनिकजई भी अश्विन की गेंद पर 11 रन बनाकर क्लीन बोल्ड हो गए। हशमतुल्लाह शहीदी (11) को अश्विन ने एलबीडब्ल्यू आउट किया। इसके बाद रविंद्र जडेजा ने अफगानिस्तान को सातवां झटका दिया। उन्होंने राशिद खान (7) को उमेश यादव के हाथों कैच आउट करवाया। इसके बाद एक बार फिर अश्विन ने मेहमान टीम को एक ही ओवर में दो झटके दिए पहले यामीन अहमदजई को जडेजा के हाथों कैच आउट करवाया उसके बाद मोहम्मद नबी को इशांत के हाथों कैच आउट करवाया। इसके बाद रविन्द्र जडेजा ने मुजीब को स्टंप करवाकर मेहमान टीम को 109 रनों पर समेट दिया। वफादार 6 रन बनाकर नाबाद रहे।

अफगानिस्तान ने रचा इतिहास
ये टेस्ट मैच इसलिए ऐतिहासिक है क्योंकि ये अफगानिस्तान का पहला टेस्ट मैच है और इसी के साथ अफगान टीम टेस्ट खेलने वाली 12वीं टीम बन गई।

कभी 10 गेंदों में खत्म हो गया था एक टेस्ट मैच

सिर्फ यही दो टीमें हैं जिन्हें पहले टेस्ट में नहीं मिली थी हार

Cricket News inextlive from Cricket News Desk