कानपुर। भारत बनाम आॅस्ट्रेलिया के बीच चार मैचों की टेस्ट सीरीज का आगाज गुरुवार से हो गया। पहला टेस्ट एडीलेड आेवल पर खेला जा रहा। मैच के तीन दिन बीतने के बाद भारतीय टीम का पलड़ा थोड़ा भारी दिख रहा, मगर विराट के सामने इस बढ़त को जीत में तब्दील करने की चुनौती होगी। आॅस्ट्रेलिया में आॅस्ट्रेलिया को हराना कभी भी आसान नहीं रहा। खासतौर से एडीलेड आेवल का इतिहास देखें तो भारत ने इससे पहले यहां कुल 11 टेस्ट खेले जिसमें उन्हें सात मैचों में हार का सामना करना पड़ा वहीं तीन मैच ड्राॅ रहे। भारत का यहां बस एक मैच में जीत मिली है वो भी साल 2003 में।
एडीलेड में टेस्ट जीतने वाला कौन है इकलौता भारतीय कप्तान ?क्या कोहली कर पाएंगे ये टेस्ट अपने नाम
जानें कैसे मिली थी भारत को वो जीत
2003 में भारतीय टीम चार मैचों की टेस्ट सीरीज खेलने आॅस्ट्रेलिया गर्इ थी। उस वक्त टीम की कमान सौरव गांगुली के हाथों में थी आैर दादा ने एडीलेड आेवल में मैच जीतकर इतिहास रच दिया था। इस मैदान पर भारत की यह अभी तक की इकलौती जीत है आैर सौरव गांगुली जीतने वाले इकलौते भारतीय कप्तान। क्रिकइन्फो पर मौजूद डेटा के मुताबिक, उस मैच में आॅस्ट्रेलिया ने पहले खेलते हुए पहली पारी में 556 रन बनाए। टीम इंडिया ने भी इसका करारा जवाब दिया। फर्स्ट इनिंग में भारत ने 523 रन बनाए। इसमें राहुल द्रविड़ ने 233 आैर वीवीएस लक्ष्मण ने 148 रन की पारी खेली थी। अब कंगारु टीम दूसरी पारी खेलने आर्इ, मगर इस बार भारतीय तेज गेंदबाज अजीत अगरकर ने एेसा कहर बरपाया कि कोर्इ बल्लेबाज उनके सामने टिक न सका। पूरी कंगारु टीम 196 रन पर सिमट गर्इ। अगरकर ने 41 रन देकर 6 विकेट अपने नाम किए।
एडीलेड में टेस्ट जीतने वाला कौन है इकलौता भारतीय कप्तान ?क्या कोहली कर पाएंगे ये टेस्ट अपने नाम
द्रविड़ बने थे टीम इंडिया के खेवनहार
आखिरी पारी में भारत को जीत के लिए 230 रनों की जरूरत थी। वैसे यह लक्ष्य भले छोटा था मगर आॅस्ट्रेलियार्इ गेंदबाजों के सामने आसान न था। मगर इस बार भी भारत की नैय्या पार करार्इ द वाॅल राहुल द्रविड़ ने। छह विकेट गिरने के बावजूद द्रविड़ एक छोर पर टिके रहे आैर भारत को जीत दिलाकर ही पवेलियन लौटे। द्रविड़ ने नाबाद 72 रन की पारी खेलकर भारत को चार विकेट से जीत दिला दी। इसी के साथ द्रविड़ मैन आॅफ द मैच भी रहे।

जानें कोहली जैसा सेलिब्रेशन क्यों नहीं मना सकते कंगारु खिलाड़ी, वजह है एेसी

क्रिकेट छोड़ नौकरी करने जा रहा था ये खिलाड़ी, तभी बना दिया गया आॅस्ट्रेलिया का कप्तान

Cricket News inextlive from Cricket News Desk