नई दिल्ली (जेएनएन)। भारत और इंग्लैंड के बीच ट्रेंट ब्रिज में तीसरा टेस्ट मैच खेला जा रहा है। इस टेस्ट में दूसरे दिन का खेल खत्म होने तक भारतीय टीम ने दूसरी पारी में 2 विकेट के नुकसान पर 124 रन बना लिए हैं। अब भारतीय टीम को 292 रन की कुल बढ़त हासिल हो गई है। भारत की तरफ से अभी क्रीज पर पुजारा (33) और कप्तान विराट (8) मौजूद हैं। इससे पहले पहली पारी में पहले बल्लेबाजी करते हुए भारत ने 329 रन बनाए थे। इसके जबाव में इंग्लैंड की पहली पारी भारतीय गेंदबाजों के सामने धराशाई हो गई और पूरी टीम 161 रन ही बना पाई। पहली पारी के आधार पर भारत को 168 रन की महत्वपूर्ण बढ़त मिली थी। भारत की तरफ से पहली पारी में हार्दिक पांड्या ने कमाल की गेंदबाजी करते हुए पांच विकेट लिए थे।

मजबूत स्थिति में टीम इंडिया
इंग्लैंड के खिलाफ दूसरी पारी में भारतीय ओपनर बल्लेबाजों ने टीम को अच्छी शुरुआत दिलाई। पहले विकेट के लिए धवन व राहुल के बीच 60 रन की साझेदारी हुई लेकिन इस जोड़ी का को बेन स्टोक्स ने तोड़ दिया। स्टोक्स ने अच्छी बल्लेबाजी कर रहे लोकेश राहुल को क्लीन बोल्ड कर दिया। राहुल ने 33 गेंदों पर 36 रन बनाए। भारत का दूसरा विकेट शिखर धवन के तौर पर गिरा। धवन को 44 रन के स्कोर पर आदिल राशिद ने बेयरस्टो के हाथों कैच करवा दिया। दूसरी पारी में अब भारतीय टीम मजबूत स्थिति में नजर आ रही है। भारत के पास फिलहाल आठ विकेट शेष हैं और उसके पास बल्लेबाजी के लिए काफी वक्त है।
दो दिन में 22 विकेट गिरते ही भारत-इंग्लैंड तीसरा टेस्ट बना रोमांचक,जानें अब तक का हाल
भारतीय गेंदबाजों का जलवा
पहली पारी में इंग्लैंड के ओपनर्स ने टीम को ठीक-ठाक शुरुआत दिलाई। दोनों ओपनर्स के बीच अर्धशतकीय साझेदारी हुई और इस साझेदारी का अंत इशांत शर्मा ने किया। उन्होंने एलिएस्टर कुल को 29 रन पर विकेट के पीछे रिषभ पंत के हाथों कैच आउट करवाया। इसके बाद अगली ही गेंद पर भारतीय टीम को दूसरी सफलता मिल गई। बुमराह ने अपना पहला विकेट लेते हुए जेनिंग्स को पवेलियन वापस भेज दिया। उन्होंने 20 रन बनाए और विकेट के पीछे एक बार फिर से रिषभ पंत ने उनका कैच पकड़कर अपना दूसरा शिकार किया। इसके बाद इशांत ने ऑली पोप को पंत के हाथों कैच आउट करवाया। इसके बाद हार्दिक ने अपनी पहली गेंद पर भारत को सबसे बड़ी सफलता दिलाई, उन्होंने जो रूट को स्लिप में केएल राहुल के हाथों कैच आउट करवाया।

पांड्या ने पहली बार लिए 5 विकेट

इंग्लैंड को पांचवां झटका मो. शमी ने दिया। उन्होंने बेन स्टोक्स को 10 रन पर लोकेश राहुल के हाथों कैच करवा दिया। हार्दिक पांड्या ने बेयरस्टो के तौर पर अपना दूसरा विकेट लिया। पांड्या ने बेयरस्टो को 15 रन पर लोकेश राहुल के हाथों कैच आउट करवाया। लॉर्ड्स टेस्ट मैच में शतक लगाने वाले क्रिेस वोक्स को पांड्या ने अपना तीसरा शिकार बनाया। उन्होंने वोक्स को 8 रन के स्कोर पर विकेट के पीछे रिषभ पंत के हाथों कैच आउट करवाया। इसके बाद आदिल राशिद भी पांड्या के शिकार बने और 5 रन के स्कोर पर पंत के हाथों कैच आउट करवाया। 3 गेंद बाद ही हार्दिक ने ब्रॉड को एलबीडबल्यू आउट कर अपने टेस्ट करियर में पहली बार 5 विकेट लिए। बुमराह ने जोस बटलर को 39 रन पर कैच आउट करवा दिया। भारत की तरफ से हार्दिक पांड्या ने पांच जबकि बुमराह व इंशांत ने दो-दो और शमी ने एक विकेट लिए।

ऐसे सिमटी भारत की पहली पारी
भारत को पहला झटका शिखर धवन के रुप में लगा। तेज गेंदबाज क्रिस वोक्स ने धवन को 35 रन के स्कोर पर दूसरी स्लिप में जोस बटलर के हाथों कैच आउट करवाया। इसके बाद वोक्स ने ही केएल राहुल को  23 रन के स्कोर एलबीडबल्यू आउट किया। इसके बाद वोक्स ने टीम इंडिया को तीसरा झटका दिया। वोक्स ने पुजारा को 14 रन के स्कोर पर आदिल राशिद के हाथों कैच आउट करवाया। इसके बाद ब्रॉड ने 81 रन के स्कोर पर रहाणे को कुक के हाथों कैच आउट करवा कर भारत को चौथा झटका दिया। इसके बाद आदिल राशिद ने विराट कोहली को स्लिप में स्टोक्स के हाथों कैच आउट करवा भारत को 5वां झटका दिया। हार्दिक पांड्या का बल्ला इस मैच में भी नहीं चला और वह 18 रन बनाकर एंडरसन का शिकार बने।
दो दिन में 22 विकेट गिरते ही भारत-इंग्लैंड तीसरा टेस्ट बना रोमांचक,जानें अब तक का हाल
डेब्यू मैच में रिषभ ने बनाए 24 रन
अपने पहले टेस्ट में रिषभ पंत 24 रन बनाकर इंग्लैंड के तेज़ गेंदबाज़ ब्रॉड की गेंद पर बोल्ड हो गए और भारत को लगा सातवां झटका। टेस्ट क्रिकेट की अपनी पहली पारी में 24 रन बनाने वाले पंत ने दो चौके और एक छक्का भी जड़ा। इसके बाद ब्रॉड ने अश्विन को क्लीन बोल्ड कर भारत को 8वां झटका दिया। जेम्स एंडरसन से मोहम्मद शमी को स्टुअर्ट ब्रॉड के हाथों कैच आउट करवा भारत को 9वां झटका दिया। इसके बाद बुमराह भी अगली ही गेंद पर बोल्ड हो गए।

शतक से चूके विराट कोहली
कप्तान विराट कोहली सिर्फ तीन रन से शतक लगाने से चूक गए। 97 रन के स्कोर पर आदिल राशिद की गेंद पर बेन स्टोक्स ने उनका कैच पकड़ा। अगर वह शतक बना लेते तो वह इस सीरीज में उनका दूसरा और टेस्ट करियर का 23वां शतक होता।

रहाणे की फॉर्म में वापसी
इस मैच में रहाणे ने फॉर्म में वापसी करते हुए 48वें टेस्ट में 13वां पचासा लगाया। रहाणे ने 13 पारियों पहले 50 या उससे ज्यादा रन बनाए थे। उन्होंने 03 अगस्त 2017 को श्रीलंका के खिलाफ कोलंबो में 132 रनों की पारी खेली थी। हालांकि इस पारी को वह शतक में तब्दील नहीं कर पाए और 81 रन बनाकर ब्रॉड का शिकार बन गए।

इंग्लैंड में बिना विकेट खोए 50 रन बनाने में भारतीय ओपनर्स को लग गए 7 साल

2007 में ट्रेंट ब्रिज में इकलौती टेस्ट जीत का गवाह यह भारतीय खिलाड़ी 'विराट सेना' से हुआ बाहर

Cricket News inextlive from Cricket News Desk