नई दिल्ली (जेएनएन)। भारत और इंग्लैंड के बीच खेले जा रहे पांचवें टेस्ट मैच के चौथे दिन का खेल खत्म होने तक मेहमान टीम ने 3 विकेट पर 58 रन बना लिए हैं। दूसरी पारी में लगे शुरुआती झटके के बाद भारतीय टीम का संघर्ष जारी है और उसे ये टेस्ट मैच जीतने के लिए अभी 406 रन और बनाने हैं। इस वक्त क्रीज पर भारतीय बल्लेबाज लोकेश राहुल (46) और अजिंक्य रहाणे (10) मौजूद हैं। इससे पहले इंग्लैंड ने दूसरी पारी में कप्तान रूट व एलिएस्टर कुक के शतक के दम पर 8 विकेट के नुकसान पर 423 रन बनाए और भारत के खिलाफ कुल 463 रन की बड़ी बढ़त हासिल की। भारत को जीत के लिए 464 रन का लक्ष्य मिला था।

भारत ने गंवाए तीन विकेट
इंग्लैंड के खिलाफ दूसरी पारी में भी भारतीय टीम की शुरुआत काफी खराब रही। टीम के ओपनर बल्लेबाज शिखर धवन दूसरी पारी में भी सिर्फ एक रन बनाकर जेम्स एंडरसन का शिकार बने और एलबीडब्ल्यू आउट हो गए। एंडरसन ने चेतेश्वर पुजारा को अपना दूसरा शिकार बनाया और उन्हें बिना खाता खोले ही शून्य पर एलबीडब्ल्यू आउट कर पवेलियन का रास्ता दिखा दिया।  कप्तान विराट को भी स्टुअर्ट ब्रॉड ने शून्य पर विकेट के पीछे बेयरस्टो के हाथों कैच आउट करवा दिया। मैच की दूसरी पारी में इंग्लैंड के तेज गेंदबाजों ने भारतीय टीम का हाल बेहाल कर दिया था। जेम्स एंडरसन ने दो जबकि स्टुअर्ट ब्रॉड ने एक विकेट लिए थे।
464 रन का वि‍शाल लक्ष्‍य देख जीरो पर चलते बने विराट कोहली,पुजारा भी नहीं दे पाया सहारा
कुक व रूट की शानदार शतकीय पारी
मैच की दूसरी पारी में भारतीय टीम को पहली सफलता तेज गेंदबाज शमी ने दिलाई। उन्होंने इंग्लिश ओपनर बल्लेबाज जेनिंग्स को 10 रन के निजी स्कोर पर क्लीन बोल्ड कर दिया। टीम इंडिया को दूसरी सफलता जडेजा ने दिलाई। उन्होंने मोइन अली को अपना शिकार बनाया और 20 रन के स्कोर पर क्लीन बोल्ड कर दिया। एलिएस्टर कुक ने अपने आखिरी टेस्ट मैच में शानदार पारी खेली और उन्हें हनुमा विहारी ने 147 रन पर आउट किया। वहीं विहारी ने अपने इसी ओवर में कप्तान रूट को 125 रन पर आउट किया। रुट का कैच हार्दिक पांड्या ने पकड़ा। वहीं कुक का कैच विकेट के पीछे रिषभ पंत ने लपका। शमी ने बेयरस्टो को 18 रन के स्कोर पर क्लीन बोल्ड कर दिया। भारत को छठा विकेट जडेजा ने दिलाया। उन्होंने जोस बटलर को बिना खाता खोले ही पवेलियन वापस भेज दिया। बटलर का कैच शमी ने लपका। जडेजा ने बेन स्टोक्स को लोकेश राहुल के हाथों कैच करवा दिया। उन्होंने 36 गेंदों पर 37 रन बनाए। सैम कुर्रन को हनुमा विहारी 21 रन पर पंत के हाथों कैच करवा दिया। आदिल रशीद 20 रन बनाकर नाबाद रहे। इंग्लैंड के खिलाफ दूसरी पारी में हनुमा विहारी व रवींद्र जडेजा ने तीन-तीन व मो. शमी ने दो विकेट लिए।

विहारी और जडेजा ने लगाए अर्धशतक
मैच की पहली पारी में भारतीय ओपनर बल्लेबाज शिखर धवन सिर्फ तीन रन बनाकर स्टुअर्ट ब्रॉड का शिकार बने। सिर्फ तीन रन के स्कोर पर ब्रॉड ने उन्हें एलबीडब्ल्यू आउट किया। लोकेश राहुल पिछली गलतियों से सीखकर काफी संभलकर बल्लेबाजी कर रहे थे लेकिन सैम कुर्रन की गेंद पर वो गलत लाइन पर खेल गए और क्लीन बोल्ड हो गए। राहुल ने 53 गेंदों का सामना करते हुए 37 रन बनाए। अच्छी बल्लेबाजी कर रहे पुजारा का ध्यान भटका और वो एंडरसन की बाहर जाती गेंद को छेड़ बैठे। नतीजा विकेट के पीछे खड़े बेयरस्टो ने पुजारा का कैच लपक लिया। पुजारा ने 101 गेंदों का सामना करते हुए 37 रन बनाए। इसके बाद एंडरसन ने अजिंक्य रहाणे को बिना खाता खोले पवेलियन भेज दिया।
464 रन का वि‍शाल लक्ष्‍य देख जीरो पर चलते बने विराट कोहली,पुजारा भी नहीं दे पाया सहारा
स्‍टोक्‍स ने की शानदार गेंदबाजी

भारत को सबसे बड़ा झटका बेन स्टोक्स ने दिया, स्टोक्स ने विराट कोहली को स्लिप में जो रूट के हाथों कैच आउट करवाया। इसके बाद स्टोक्स ने रिषभ पंत को भी कुक के हाथों कैच आउट करवा भारत को छठा झटका दिया। हनुमा विहारी ने अपने डेब्यू टेस्ट मैच में ही अपने धैर्य का शानदार परिचय दिया। उन्होंने 124 गेंदों का सामना करते हुए 56 रन की पारी खेली। वो मोइन अली की गेंद पर बेयरस्टो के हाथों विकेट के पीछे लपके गए। इशांत शर्मा को मोइन अली ने 4 रन पर बेयरस्टो के हाथों कैच करवा दिया। मो. शमी को आदिल रशीद ने एक रन पर स्टुअर्ट ब्रॉड के हाथों कैच आउट करवाया। रवींद्र जडेजा ने बेहतरीन बल्लेबाजी की और 86 रन बनाकर नाबाद रहे। भारत का अंतिम विकेट बुमराह के तौर पर गिरा। वो बिना खाता खोले रन आउट हो गए। इंग्लैंड की तरफ से पहली पारी में गेंदबाजी करते हुए एंडरसन, स्टोक्स और मोइन अली ने दो-दो जबकि ब्रॉड, कुर्रन और आदिल रशीद ने एक-एक विकेट लिए।

ऐसे सिमटी इंग्लैंड की पहली पारी

भारत को पहली सफलता रवींद्र जडेजा ने दिलाई, जडेजा ने 23 रन के स्कोर पर कीटन जेनिंग्स को राहुल के हाथों कैच आउट करवाया। इसके बाद अपना आखिरी टेस्ट खेल रहे कुक 71 रन बनाने के बाद बुमराह के शिकार बने। बुमराह ने कुक क्लीन बोल्ड कर भारत को दूसरी सफलता दिलाई। बुमराह ने इसके 3 गेंद बाद ही जो रूट को एलबीडबल्यू आउट कर दिया। इसके बाद जॉनी बेयरस्टो भी केवल 4 गेंद ही खेल पाए और बिना खाता खोले इशांत का शिकार बन गए। इशांत ने बेयरस्टो को पंत के हाथों कैच आउट करवाया। बेन स्टोक्स को जडेजा ने अपना दूसरा शिकार बनाया और भारत को पांचवीं सफलता दिलाई। 40 गेंदों का सामना कर 11 रन बनाने वाले स्टोक्स को जडेजा ने LBW आउट किया।
464 रन का वि‍शाल लक्ष्‍य देख जीरो पर चलते बने विराट कोहली,पुजारा भी नहीं दे पाया सहारा
पहली पारी में बटलर ने बनाए थे सबसे ज्‍यादा रन
इशांत ने भारत को छठी सफलता मोइन अली को आउट कर दिखाई। इशांत ने अली को 50 रन के स्कोर पर पंत के हाथों कैच आउट करवाया। इसके बाद सैम कुर्रन भी 2 गेंद से ज्यादा नहीं खेल पाए और इशांत की गेंद पर पंत को कैच देकर पवेलियन लौट गए। दूसरे दिन बुमराह ने आदिल राशिद को एलबीडबल्यू आउट कर भारत को 8वीं सफलता दिलाई। रवींद्र जडेजा ने भारत को 9वीं सफलता दिलाई। जडेजा ने ब्रॉड को केएल राहुल के हाथों कैच आउट करवाया। भारत को आखिरी सफलता जडेजा ने दिलाई। जडेजा ने 133 गेंदों पर 89 रन बनाने वाले जोस बटलर को रहाणे के हाथों कैच आउट करवा दिया। भारत की तरफ से पहली पारी में सबसे सफल गेंदबाज रवींद्र जडेजा रहे जिन्होंने चार विकेट लिए वहीं भारतीय तेज गेंदबाजों जसप्रीत बुमराह और इशांत शर्मा ने तीन-तीन विकेट लिए।

1999 वर्ल्डकप में गांगुली का मैच देख रहा था यह बच्चा बड़ा होकर भारत के खिलाफ ही रन बना रहा


एक टेस्ट सीरीज में पांचो टॉस जीतने वाले इकलौते भारतीय कप्तान कौन हैं?

Cricket News inextlive from Cricket News Desk