गेंदबाज या बल्‍लेबाज
भारतीय टीम के कोच अनिल कुंबले इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज के शुरुआती मैच से पहले चयन की दुविधा में फंसे हुए हैं। कुंबले के सामने दो होनहार खिलाड़ी हैं जिनमें सिर्फ एक का सेलेक्‍शन करना है। यह दो नए खिलाड़ी हार्दिक पंड्या और करुण नायर हैं। अब पांड्या को ‘‘पांचवें गेंदबाज’’ के तौर पर चुने या फिर करूण नायर को ‘‘छठे बल्लेबाज’’ के तौर पर अंतिम एकादश में रखें, यह समस्‍या बड़ी है। कुंबले की नजर में दोनों खिलाड़ी काफी प्रतिभावान हैं।

पांड्या के अंदर है क्षमता
कुंबले ने स्पष्ट किया कि टीम हार्दिक को बतौर ऑलराउंडर ‘खुद अभिव्यक्त करने’ देना चाहेगी जिसमें पांचवें गेंदबाज की काबिलियत है और साथ ही उन्होंने यह बात भी बतायी कि टीम प्रबंधन प्रतिभाशाली करूण का भी पूर्ण समर्थन करेगा, अगर उसे मौका मिलता है। हार्दिक के बारे में पूछने पर इस महान स्पिनर ने सकारात्मक जवाब दिया। उन्होंने कहा, ‘‘हार्दिक काफी प्रतिभाशाली खिलाड़ी है। जब वह आईपीएल में भी आया था, उसने अपनी क्षमता दिखायी थी। हां, छोटा प्रारूप अलग है लेकिन हम सभी हार्दिक की क्षमता देख चुके हैं। भले ही टी20 में आपने उसकी झलक देखी हो, या फिर धर्मशाला (तीन विकेट) में उसे गेंदबाजी या दिल्ली (30 से ज्यादा रन) में बल्लेबाजी करते देखा हो। इसलिये हमने उसे टेस्ट टीम में शामिल करने का समर्थन किया।’’ आप महसूस कर सकते हो कि उनके दिमाग में क्या चल रहा था जब वह हार्दिक की पांचवें गेंदबाज के रूप में क्षमता के बारे में बात कर रहे थे।

यह भी पढ़ें : पता चल गया सचिन और कोहली में कौन है बेस्‍ट

करूण दिखा सकते हैं बल्‍लेबाजी में दम
भारतीय टीम के ओपनर बल्‍लेबाज रोहित शर्मा चोटिल हैं। ऐसे में करूण नायर के लिए मौका खुल सकता है। करूण नायर की ओर बढ़ी जो छठे विशेषज्ञ बल्लेबाज के रूप में पसंद हो सकते हैं तो कुंबले इस बारे में भी सकारात्मक थे। उन्होंने कहा, ‘‘करूण ने घरेलू क्रिकेट में काफी बढ़िया किया है। उसने तेजी से नियमित रूप से रन जुटाये हैं। ऐसी भी बातें चल रही थीं कि उसने भारत-ए के लिए ऑस्ट्रेलिया में रन नहीं जुटाये थे लेकिन हम निरंतरता देख रहे हैं। इसलिये वह न्यूजीलैंड टेस्ट टीम का हिस्सा था। इसके बाद वह रणजी ट्राफी में खेला, उसने रन जुटाये, शतक जड़े।

Cricket News inextlive from Cricket News Desk

Cricket News inextlive from Cricket News Desk