कानपुर। भारत और इंग्लैंड के बीच ट्रेंट ब्रिज में खेले जा रहे तीसरे टेस्ट के चौथे दिन का खेल खत्म होने तक इंग्लैंड की टीम ने दूसरी पारी में 9 विकेट पर 311 रन बना लिए हैं। मेजबान टीम को जीत के लिए अभी 210 रन बनाने हैं। फिलहाल क्रीज पर एंडरसन नाबाद 8 रन और आदिल राशिद 30 रन बनाकर खेल रहे हैं। वहीं भारतीय टीम को तीसरा टेस्ट मैच जीतने के लिए सिर्फ एक विकेट की जरूरत है। मैच की दूसरी पारी में भारत की तरफ से जसप्रीत बुमराह ने शानदार गेंदबाजी करते हुए कुल पांच विकेट चटकाए। इस मैच को अभी चार दिन हुए हैं और ज्यादातर सभी खिलाड़ियों ने कोई न कोई रिकॉर्ड कायम किया।
गजब है भारत-इंग्लैंड तीसरा टेस्ट,सभी खिलाड़ी बनाते जा रहे रिकॉर्ड
1. इंग्लैंड की दूसरी पारी में भारतीय तेज गेंदबाज जसप्रीम बुमराह ने शानदार प्रदर्शन किया। उन्होंने अब तक 85 रन देकर 5 विकेट लिए। इसी के साथ बुमराह तीसरे ऐसे भारतीय गेंदबाज बन गए जिन्होंने पिछले चार लगातार टेस्ट मैचों में 5 या उससे ज्यादा विकेट चटकाए हैं। उनसे पहले यह कारनामा 1936 में मोहम्मद निसार और 1989 में मनोज प्रभाकर कर चुके हैं।

2. इस टेस्ट मैच में ज्यादातर सभी बल्लेबाज स्लिप या कीपर के हाथों आउट हुए हैं। यही वजह है कि भारत की तरफ से केएल राहुल तीसरे टेस्ट में अब तक 7 कैच पकड़ चुके हैं। इसी के साथ राहुल इंग्लैंड में किसी एक मैच में सबसे ज्यादा कैच पकड़ने वाले भारतीय फील्डर बन गए।
गजब है भारत-इंग्लैंड तीसरा टेस्ट,सभी खिलाड़ी बनाते जा रहे रिकॉर्ड
3. डेब्यू टेस्ट मैच खेल रहे ऋषभ पंत ने इस टेस्ट में कुल 7 कैच लपक लिए हैं। इसी के साथ वह बतौर डेब्यू विकेटकीपर टेस्ट में सबसे ज्यादा कैच पकड़ने वाले भारतीय बन गए हैं। उनसे पहले नरेन तमहाने, किरण मोरे, नयन मोंगिया और नमन ओझा ने यह कारनामा किया था मगर उनके खाते में सिर्फ 5 कैच थे।

4. ऋषभ पंत और केएल राहुल की चौथी ऐसी जोड़ी है जिसने एक टेस्ट में 5 या उससे ज्यादा कैच लपके। इनसे पहले यह कारनामा किरण मोरे-अजहरुद्दीन ने 1989 में, श्रीकांत-मोरे ने 1992 में और सौरव गांगुली-शिव सुंदर ने 2000 में किया था।
गजब है भारत-इंग्लैंड तीसरा टेस्ट,सभी खिलाड़ी बनाते जा रहे रिकॉर्ड
5. इंग्लैंड के दिग्गज ओपनर बल्लेबाज एलिस्टर कुक 11वीं बार इशांत शर्मा का शिकार बने। उनसे आगे सिर्फ साउथ अफ्रीका के मोर्ने मोर्कल हैं जिन्होंने कुक को 12 बार आउट किया है। यही नहीं इशांत के अलावा भारतीय गेंदबाज कपिल देव ने भी एक खिलाड़ी को 11 बार आउट किया वो हैं ग्राहम कूच।

6. पिछले चार टेस्ट मैचों में बुमराह के नाम कुल 21 विकेट हो गए, यह किसी भारतीय गेंदबाज द्वारा लिए गए सबसे ज्यादा विकेट हैं। उनसे पहले वेंकटेश प्रसाद और मुनाफ पटेल ने 19-19 विकेट लिए थे।
गजब है भारत-इंग्लैंड तीसरा टेस्ट,सभी खिलाड़ी बनाते जा रहे रिकॉर्ड
7. जोस बटलर ने चौथी पारी में शानदार शतक जड़ा। बटलर ने इस पारी में 106 रन बनाए, भारत के खिलाफ किसी इंग्लिश बल्लेबाज द्वारा यह सबसे बड़ा इंडिविजुअल स्कोर है। इससे पहले यह रिकॉर्ड केविन पीटरसन के नाम था जिन्होंने 2007 में 101 रन बनाए थे।

8. टेस्ट क्रिेकट इतिहास में कुल 9 ऐसे खिलाड़ी हैं जिनके नाम 3000 टेस्ट रन और 300 विकेट दर्ज हैं। इंग्लैंड के स्टुअर्ट ब्रॉड इस लिस्ट में अब शामिल हो गए। उनसे पहले यह कारनामा शेन वार्न, कपिल देव, रिचर्ड हेडली, शॉन पोलाक, इयान बॉथम, इमरान खान, डेनियल विटोरी और चमिंडा दास ने किया था।
गजब है भारत-इंग्लैंड तीसरा टेस्ट,सभी खिलाड़ी बनाते जा रहे रिकॉर्ड
9. नॉटिंघम टेस्ट की पहली पारी में हार्दिक पांड्या ने 5 विकेट लिए। टेस्ट क्रिकेट इतिहास में उनका यह अभी तक का सर्वश्रेष्ठ बॉलिंग प्रदर्शन है।

10. विराट और सचिन के 23 टेस्ट शतकों का रिकॉर्ड देखें तो विराट को यहां पहुंचने में 2011 से 2018 तक का समय लगा जबकि सचिन ने पहला मैच 1989 में खेला था और 23वां टेस्ट शतक साल 2000 में आया। इस लिहाज से विराट ने 7 साल में यह कारनामा कर दिया वहीं सचिन को 11 साल लग गए थे। क्रिकइन्फो के डेटा की मानें तो, सचिन ने इस दौरान 78 मैच खेले वहीं विराट ने सिर्फ 69। हालांकि रनों में सचिन आगे हैं उनके नाम 6215 रन दर्ज हैं तो विराट के खाते में 5994 रन शामिल हैं।

36 साल बाद इंग्लैंड में सबसे बड़ी जीत से बस एक विकेट दूर टीम इंडिया

शतक लगाकर विराट ने अनुष्‍का को दी फ्लाइंग किस

Cricket News inextlive from Cricket News Desk