कानपुर। भारत और इंग्लैंड के बीच पांच मैचों की टेस्ट सीरीज का तीसरा टेस्ट शनिवार से नॉटिंघम में शुरु हो गया। इंग्लिश कप्तान जो रूट ने टॉस जीतकर मेहमान भारत को पहले बैटिंग का न्यौता दिया। भारत की तरफ से केएल राहुल और शिखर धवन ओपनिंग करने आए। दोनों बल्लेबाजों ने पहले विकेट के लिए 60 रन जोड़े। आपको बता दें करीब 7 साल बाद ऐसा मौका आया है जब भारतीय ओपनर्स ने इंग्लैंड में किसी टेस्ट में पहले विकेट के लिए 50 या उससे ज्यादा की पार्टनरशिप की। ईएसपीएन क्रिकइन्फो के डेटा के मुताबिक, पिछली बार भारतीय सलामी जोड़ी ने 2011 में लॉर्ड्स में फर्स्ट विकेट के लिए 63 रन जोड़े थे।

20 पारियों बाद जोड़ पाए 50 रन
डेटा पर नजर डालें तो भारतीय ओपनर्स को इंग्लैंड में किसी टेस्ट में पहले विकेट के लिए 50 रन जोड़ने में 7 साल लगे। इस दौरान टीम इंडिया ने 20 पारियां खेलीं मगर हर बार कोई न कोई सलामी बल्लेबाज आउट होकर चला जाता था। 2011 में ओपनर रहे गौतम गंभीर और अभिनव मुकुंद ने यह कारनामा किया था, तब से पिछले 10 टेस्ट मैचों में कई ओपनिंग जोड़ियां बदल गईं लेकिन कोई जोड़ी 50 रन तक नहीं जोड़ पाई। इंग्लैंड के खिलाफ मौजूदा सीरीज में केएल राहुल और धवन के बल्ले ने पिछली 20 पारियों का सूखा आखिरकार खत्म कर दिया।
इंग्लैंड में बिना विकेट खोए 50 रन बनाने में भारतीय ओपनर्स को लग गए 7 साल
सिर्फ एक मैच जीता है यहां
क्रिकइन्फो के डेटा के मुताबिक, भारत ने नॉटिंघम के ट्रेंट ब्रिज मैदान में पहला टेस्ट मैच साल 1959 में खेला था। तब भारत को पारी और 59 रन से करारी हार मिली थी। इस मैदान पर यह टीम इंडिया की सबसे बड़ी हार है। भारत ने यहां कुल 6 टेस्ट खेले जिसमें दो में हार मिली वहीं 3 मैच ड्रा रहे जबकि एक मैच भारत के नाम रहा था। पिछली बार टीम इंडिया एमएस धोनी की कप्तानी में ट्रेंटब्रिज में खेली थी तब वो मैच ड्रा रहा था।

क्या कोहली बना पाएंगे विराट रिकॉर्ड
इंग्लैंड में टेस्ट रिकॉर्ड की बात करें तो भारत ने अब तक यहां कुल 17 टेस्ट सीरीज खेली हैं जिसमें सिर्फ तीन में उन्हें जीत मिली जबकि 13 बार हार का सामना करना पड़ा हैं। वहीं एक मैच ड्रा रहा। बतौर कप्तान विराट का यह पहला इंग्लैंड दौरा है हालांकि वह वनडे में जीत के साथ खाता तो नहीं खोल पाए मगर टेस्ट में अपने नाम एक नायाब रिकॉर्ड जरूर बनाना चाहेंगे। ईएसपीएन क्रिकइन्फो के डेटा के मुताबिक, भारत को इंग्लैंड में आज तक सिर्फ तीन कप्तान टेस्ट सीरीज जितवा पाए हैं। उसमें अजीत वाडेकर, कपिल देव और राहुल द्रविड़ का नाम आता है। अब विराट इस लिस्ट में अपना नाम जोड़ पाते हैं या नहीं यह तो वक्त बताएगा।

नॉटिंघम कैसे जीतेंगे कप्तान विराट, 60 साल में यहां जीते हैं सिर्फ एक मैच


Ind vs Eng : ऋषभ पंत बने भारत के 291वें टेस्ट क्रिकेटर, जानिए पहला कौन था

Cricket News inextlive from Cricket News Desk