कानपुर। भारत बनाम इंग्लैंड के बीच पांच मैचों की टेस्ट सीरीज का पहला मैच एजबेस्टन में खेला जा रहा। पहले दिन 9 विकेट पर 285 रन बनाने के बाद मेजबान टीम के लिए दूसरे दिन की शुरुआत खास नहीं रही। अभी कुल स्कोर में दो रन ही जुड़े थे कि मोहम्मद शमी ने सैम करन के रूप में आखिरी विकेट लेकर इंग्लैंड की पारी का अंत किया। मेजबान टीम के 287 रनों के जवाब में भारतीय बल्लेबाज पहली पारी खेलने मैदान में आए। टीम इंडिया की तरफ से मुरली विजय और शिखर धवन ने ओपनिंग की।
ind vs eng : कौन है ये 20 साल का गेंदबाज,जिसकी गेंदें नहीं झेल पाए भारत के टॉप ऑर्डर बल्लेबाज
20 साल के सैम करन के आगे फेल हुए भारतीय दिग्गज
भारतीय ओपनर बल्लेबाज मुरली विजय और शिखर धवन ने पहले विकेट के लिए 50 रन की साझेदारी की। यह जोड़ी अभी जम ही रही थी कि 20 साल के युवा इंग्लिश गेंदबाज सैम करन ने विजय को 20 रन पर चलता किया। इसके चार रन बाद ही धवन को भी करन ने मलान के हाथों कैच आउट करा दिया। तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी करने आए केएल राहुल भी कुछ खास नहीं कर सके और 4 रन के निजी स्कोर पर करन ने उन्हें भी बोल्ड कर दिया। बाएं हाथ के तेज गेंदबाज सैम ने 9 रन के भीतर भारत के टॉप ऑर्डर बल्लेबाजों को पवेलियन की राह दिखा दी। फिलहाल खबर लिखे जाने तक विराट कोहली (9) और अजिंक्य रहाणे (8) रन बनाकर क्रीज पर मौजूद हैं।

दूसरा टेस्ट मैच खेल रहे करन
इंग्लैंड के उभरते तेज गेंदबाज सैम करन का यह दूसरा टेस्ट मैच है। ईएसपीएन क्रिकइन्फो के डेटा के मुताबिक, करन ने जून 2018 में पाकिस्तान के खिलाफ टेस्ट डेब्यू किया था। पहले मैच में तो उन्हें सिर्फ 2 विकेट मिले थे मगर भारत के खिलाफ दूसरे टेस्ट में उतरते ही वह काफी घातक गेंदबाज बन गए। भारत की टॉप ऑर्डर बल्लेबाजी को तहस-नहस करने के बाद सैम फिलहाल सुर्खियों में आ गए। बता दें सैम ने वनडे मैच भी अभी एक ही खेला है जिसमें भी उनके नाम दो विकेट दर्ज हैं। सैम निचले क्रम में आकर बल्लेबाजी भी कर लेते हैं।
ind vs eng : कौन है ये 20 साल का गेंदबाज,जिसकी गेंदें नहीं झेल पाए भारत के टॉप ऑर्डर बल्लेबाज
मुरली के डेब्यू मैच के वक्त 10 साल के थे करन

सैम करन ने जिन भारतीय बल्लेबाजों का विकेट लिया है। वह उनसे न सिर्फ उम्र में बल्कि क्रिकेट करियर में भी काफी सीनियर हैं। आपको जानकर हैरानी होगी, मुरली विजय ने जब 2008 में अपना पहला टेस्ट मैच खेला था तब सैम सिर्फ 10 साल के थे वहीं धवन के डेब्यू मैच में इस युवा गेंदबाज की उम्र 12 साल थी। इसके बावजूद सैम करन ने अपनी शानदार गेंदबाजी से इन भारतीय दिग्गजों का शिकार किया।

जिंबाब्वे क्रिकेटर के बेटे हैं सैम करन

इंग्लिश तेज गेंदबाज सैम करन भले ही इंग्लैंड क्रिकेट टीम से खेलते हों मगर उनके पिता केविन करन जिंबाब्वे क्रिकेट टीम से मैच खेलते थे। केविन ने जिंबाब्वे की तरफ से 11 वनडे खेले, जिसमें उन्होंने 287 रन और 9 विकेट अपने नाम किए हैं। हालांकि सैम ने भी जिंबाब्वे की अंडर 13 क्रिकेट टीम से कुछ मैच खेले थे मगर बाद में वह इंग्लैंड की तरफ से खेलने लगे।

Ind vs Eng : इंग्लैंड में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाला भारतीय गेंदबाज सिर्फ एक 'हाथ' का था

एजबेस्टन में कभी नहीं जीती टीम इंडिया, यहां पारी के अंतर से मिलती है हार

Cricket News inextlive from Cricket News Desk