कानपुर। भारत और इंग्लैंड के बीच टेस्ट सीरीज़ का दूसरा मैच लॉर्ड्स के मैदान पर है। पांच टेस्ट मैचों की सीरीज़ का ये दूसरा मैच है और इस मैच में टॉस से पहले ही बारिश ने बाधा डाल दी। बारिश की वजह से न सिर्फ टॉस में देरी हुई बल्कि पहले दिन का लंच भी जल्दी लेना पड़ा। लंदन में लगातार हो रही बारिश को देखते पहले दिन का खेल रद्द किया जा सकता है। अगर ऐसा हुआ तो 17 साल पुराना एक रिकॉर्ड टूट जाएगा।

बारिश ने डाली बाधा
लॉर्ड्स में होने वाले इस टेस्ट मैच से पहले लंदन में काफी गर्मी थी और वहां का तापमान 32 से 33 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया था। गुरुवार (9 अगस्त) की सुबह से हो रही बारिश की वजह से मौसम ने ऐसी पलटी मारी की तापमान 32-33 से सीधा 18-19 डिग्री सेल्सियस पर आ गया। बरसात के चलते न सिर्फ खेल का पहला सेशन खराब हुआ बल्कि पहले दिन का खेल रद्द होने तक की स्थिति आ गई।


2001 में हुआ था ऐसा
अगर लॉर्ड्स में भारत और इंग्लैंड के बीच पहले दिन का खेल रद्द हो गया, तो इस मैदान पर 17 साल के बाद ये पहला मौका होगा जब किसी भी टेस्ट मैच के पूरे दिन का खेल रद्द होगा। इससे पहले लॉर्ड्स में ऐसा 2001 में हुआ था, जब पूरे दिन का खेल रद्द करना पड़ा था। ये मैच पाकिस्तान और इंग्लैंड की टीमों के बीच खेला जा रहा था।

लॉर्ड्स में भारत जीता है सिर्फ दो बार
ईएसपीएन क्रिकइन्फो के डेटा के मुताबिक, भारत ने यहां कुल 17 टेस्ट खेले हैं जिसमें कि 11 मैचों में उन्हें करारी हार मिली तो दो मैच उनके नाम रहे। वहीं 4 टेस्ट ड्रा रहे। भारत ने लॉर्ड्स में आज तक सिर्फ दो टेस्‍ट मैच ही जीते हैं। पहला टेस्‍ट मैच 1986 में और दूसरा 2014 में। लेकिन इन दोनों जीत में कई बातें ऐसी थीं जो कॉमन रहीं।

1986 में मिली थी पहली जीत
1986 में भारतीय टीम जब इंग्‍लैंड दौरे पर गई थी। तो पहले ही टेस्‍ट मैच में ऐसी अप्रत्‍याशित जीत मिल जाएगी यह किसी ने नहीं सोचा था। क्रिकइन्फो के डेटा के मुताबिक, इस मैच में इंग्‍लिश टीम ने पहली पारी में 294 रन बनाए थे। जिसके जवाब में भारतीय टीम ने अपनी पहली पारी 341 रन पर समाप्‍त की। इसके बाद इंग्‍लैंड के बल्‍लेबाज दूसरी पारी में 180 रन पर ही सिमट गए। ऐसे में भारत के पास मैच जीतने का बेहतरीन मौका था और उन्‍होंने दूसरी इनिंग्‍स में 5 विकेट खोकर 136 रन का लक्ष्‍य हासिल कर लिया और इतिहास रच दिया।

फिर 28 साल बाद मिली जीत
साल 1986 में पहली जीत मिलने के बाद भारत को दूसरी जीत के लिए 28 साल इंतजार करना पड़ा। कप्तान एमएस धोनी की अगुआई में भारत ने लॉर्ड्स में दूसरी जीत 2014 में हासिल की थी। लॉर्ड्स में भारत को दूसरी बार जीत दिलाने वाले हीरो अजिंक्य रहाणे थे। तब रहाणे को टेस्ट खेले सिर्फ एक साल हुआ था मगर सेलेक्टर्स ने उनके ऊपर भरोसा जताया और टीम में रख लिया। पांच मैचों की इस सीरीज में पहला मैच मेहमान भारत के नाम रहा। दूसरा मैच लंदन के लॉडर्स में खेला गया। यह वही मैदान था जहां भारत पिछले 28 सालों में कोई मैच नहीं जीत पाया। मगर उस दिन इतिहास रचने जा रहा था, भारत की तरफ से रहाणे को छोड़ कोई भी बल्लेबाज शतक नहीं लगा पाया। रहाणे के दम पर भारत ने यह मैच 95 रन से जीतकर पिछले 28 सालों का सूखा खत्म कर दिया। इस जीत का पूरा श्रेय रहाणे को मिला।

लॉर्ड्स मैदान पर खिलाड़ी निकाल चुके हैं एक-दूसरे का खून, देखें ऐतिहासिक मैदान की 5 अनदेखी तस्वीरें


लॉर्ड्स है वो मैदान, जहां सचिन-विराट ने नहीं इस भारतीय गेंदबाज ने लगाया है टेस्ट शतक

Cricket News inextlive from Cricket News Desk