8 साल पहले खेला था मैच
साउथ अफ्रीका के सेंचुरियन मैदान पर भारत ने आज तक सिर्फ एक टेस्‍ट खेला है, वो भी 8 साल पहले। साल 2010 में एमएस धोनी की कप्‍तानी में भारतीय टीम अफ्रीका के दौरे पर गई थी। तीन मैचों की सीरीज का पहला टेस्‍ट सेंचुरियन मैदान पर खेला गया। भारत को इस ग्राउंड की कंडीशन की जानकारी नहीं थी। बस फिर क्‍या था साउथ अफ्रीकी गेंदबाजों ने भारतीय बल्‍लेबाजों को ऐसा नचाया, कि उस वक्‍त टीम में सहवाग, गंभीर, सचिन और द्रविड़ जैसे तमाम दिग्‍गज थे लेकिन किसी का बल्‍ला भी नहीं चल पाया।
ind vs sa : सेंचुरियन में ऐसा है भारत का रिकॉर्ड,7 बल्‍लेबाज तो दहाई के अंक तक नहीं पहंच पाए थे
निराशाजनक रहा था भारत का प्रदर्शन
साउथ अफ्रीका ने टॉस जीतकर भारत को बल्‍लेबाजी का न्‍यौता दिया। पिच पूरी तरह से गेंदबाजों की मददगार थी। ऊपर से अफ्रीकी टीम में डेल स्‍टेन और मोर्न मोर्कल जैसे खतरनाक गेंदबाज अपने चरम पर थे। स्‍टेन और मोर्कल की जोड़ी ने ऐसा तूफान मचाया कि टीम इंडिया पहली पारी में 136 रन पर ऑलआउट हो गई। टीम के 7 खिलाड़ी तो दहाई के अंक तक भी नहीं पहुंच सके थे। यह तो अच्‍छा था कि आखिरी में गेंदबाज हरभजन सिंह ने 27 रन की महत्‍वपूर्ण पारी खेली नहीं तो भारत का 100 रन तक पहुंचना भी मुश्‍किल लग रहा था।
ind vs sa : सेंचुरियन में ऐसा है भारत का रिकॉर्ड,7 बल्‍लेबाज तो दहाई के अंक तक नहीं पहंच पाए थे
करनी होगी वापसी

सेंचुरियन मैदान पर भारत का टेस्‍ट रिकॉर्ड अच्‍छा नहीं है। भारत ने यहां एकमात्र टेस्‍ट खेला और उसमें भी पारी और 25 रन से शिकस्‍त झेलनी पड़ी। ऐसे में कप्‍तान विराट कोहली की अगुआई में भारतीय टीम की राह आसान नहीं होगी। यहां की पिच में वही तेजी और उछाल देखने को मिलेगा। खैर दूसरे टेस्‍ट में भारतीय टीम में कुछ बदलाव भी देखने को मिल सकते हैं। कुछ खिलाड़ी अंदर आएंगे, वहीं धवन या रोहित को बाहर किया जा सकता है।

Cricket News inextlive from Cricket News Desk