टॉप 3 अधिकारियों में होता है सीडीओ
गार्टनर कंपनी के रिसर्च वाइस प्रेसीडेंट गणेश राममूर्ति ने बताया कि सभी बड़ी कंपनियों में इन दिनों चीफ डिजिटल ऑफिसर (सीडीओ) का महत्वपूर्ण पद है। सीडीओ किसी भी कंपनी के टॉप 3 अधिकारियों में से एक होता है। पिछले कुछ सालों से सीडीओ सीधे कंपनी के सीईओ को रिपोर्ट करने लगे हैं। साथ ही डिजिटल अधिकारी को कंपनी में प्रमुख मार्केटिंग अधिकारी और चीफ इंफारमेशन अधिकारी के बराबर रखा जा रहा है। गार्टनर के अनुसार डिजिटल अधिकारियों को नियुक्त करने के ग्लोबल ट्रेंड में भारत बहुत आगे बढ़ रहा है।

भारतीय कंपनियां नियुक्‍त कर रही हैं सीडीओ
2016 में सीआईओ की सर्वे रिपोर्ट में ये बात सामने आई है कि 20 प्रतिशत भारतीय संस्थाएं सीडीओ के पद पर लोगों को नियुक्त कर रही है जबकि ये आकंडा ग्लोबल स्तर पर 9 प्रतिशत है। इसमें रिलायंस, आदित्य बिरला ग्रुप, मंहिद्रा, आरपीजी ग्रुप, रेमंड, बिरला सन लाइफ इंश्योरेंस, एलएंडटी जैसी कंपनियों ने हाल ही में अपने यहां बड़ी सैलरी देकर डिजिटल अधिकारी नियुक्त किए हैं। अप्रैल में ही मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस जियो ने विशाल संपत को अपनी डिजिटल मार्केटिंग के लिए चीफ डिजिटल अधिकारी के रूप में नियुक्त किया है। बोस्टन कंस्लटिंग ग्रुप के डायरेक्टर सौरभ त्रिपाठी कहते हैं कि डिजिटल इन दिनों सभी के लिए जरूरी हो गया है।

बढ़ा है डिजिटल अधिकारियों का ट्रेंड
कंपनियां डिजिटल सेक्टर के लिए बड़े पैकेज पर लोगों को नियुक्त कर रही है। पिछले साल से ही डिजिटल अधिकारियों का ट्रेंड बढ़ा है। त्रिपाठी कहते हैं कि इस साल हमने 7 से 10 इस तरह की नियुक्तियां कराई हैं। ईएमए के मैनेजिंग पार्टनर के सुदर्शन कहते हैं कि डिजिटल के क्षेत्र में देश में बड़ा बदलाव हो रहा है। इसी वजह से कंपनियों में भी इस पोस्ट का खास खयाल रखा जा रहा है। कंपनियों में डिजिटल अधिकारी दो तरह के काम करता है एक तो डिजिटल मार्केटिंग और दूसरा डिजिटल क्षेत्र में बदलाव।

3 करोड़ तक हो सकता है सैलरी पैकेज
पिछले 6 महीनों में बैंक कॉस्मेटिक और मल्टीलेयर मार्केटिंग के लिए हमने करीब पांच सीडीओ नियुक्त कराए हैं। सभी कंपनियों में अब विशेष रूप से इसकी जरूरत पडऩे लगी है। अभी इस सेक्टर में नियुक्तियां और बढ़ेगी। भारत के टैलेंटेड युवा इस क्षेत्र में अपना भविष्य देख सकते हैं क्योकि इस सेक्टर के सैलरी पैकेज भी 3 करोड़ रुपए तक जाते हैं। डिजिटल प्रैक्टिस के लिए एग्जीक्यूटिव तलाशने वाली कंपनी ट्रांससर्च के पार्टनर अनुज रॉय कहते हैं कि ई कॉमर्स के अलावा आम कंपनियां भी डिजिटल में नियुक्तियां कर रही हैं।

बड़ रही है सैलरी की डिमांड
कंपनियां अपने डिजिटल बिजनेस के लिए सीईओ और दूसरा डिजिटल स्ट्रेटजी के लिए प्रमुख अधिकारी खोज रही हैं। हैडरिक एंड स्ट्रगल इंडिया के पार्टनर अरुण दास महापात्रा कहते हैं कि इन पदों के लिए आधे मिलियन यूएस डॉलर से भी ज्यादा सैलरी ऑफर की जा रही हैं। ये कहा जा सकता है कि डिजिटल अधिकारी के पद के लिए करीब एक करोड़ रुपये से लेकर 3.5 करोड़ तक की सैलरी भी दी जाएगी।

Business News inextlive from Business News Desk