विमान को प्रशिक्षु छात्र उड़ा रहे थे
वाशिंगटन (पीटीआई)।
अमेरिका के फ्लोरिडा में मंगलवार को एक फ्लाइट स्कूल के दो छोटे ट्रेनिंग विमान हवा में टकरा गए। इस हादसे में दिल्ली की रहने वाली 19 वर्षीय भारतीय युवती निशा सेजवाल समेत तीन लोगों की मौत हो गई है। स्कूल के प्रशासनिक विभाग ने बताया कि दोनों विमान पाइपर पीए-34 और सेसना 172 मियामी के पास एवरग्लेड्स में टकराए। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, दोनों विमान मियामी के डीन इंटरनेशनल फ्लाइट स्कूल के थे और वे आपस में तब टकरा गए जब उन्हें प्रशिक्षु छात्र उड़ा रहे थे।

एक और व्यक्ति की मौत
फ्लोरिडा की पुलिस ने बताया कि इस हादसे में तीन लोग मारे गए हैं। इसके अलावा ऐसी आशंका है कि इस हादसे में एक और व्यक्ति की मौत हुई है और उसकी तलाश जारी है। निशा सेजवाल के अलावा अन्य मृतकों की पहचान 22 वर्षीय जॉर्ज सांचेज और 72 वर्षीय राल्फ नाइट के रूप में हुई है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, दो शव एक विमान से बरामद हुए वहीँ तीसरा शव दूसरे विमान के पास मिला। घटनास्थल के पास मौजूद एक चश्मदीद डेनियल मिरल्स ने बताया कि उसने आसमान में दोनों विमानों को टकराते हुए देखा। उसने इसका एक वीडियो भी बनाया।

10 सालों में दर्जनों विमान दुर्घटनाग्रस्त  
बता दें कि 2007 से 2017 के बीच डीन इंटरनेशनल फ्लाइट स्कूल के दो दर्जनों विमान दुर्घटनाग्रस्त हुए हैं। हालांकि, उसमें क्षति क्या हुई, इसके बारे में कुछ नहीं बताया गया है। निशा सेजवाल के फेसबुक अकाउंट से पता चला है कि वो मूल रूप से दिल्ली की रहने वाली थीं। उन्होंने पिछले साल सितंबर में इस फ्लाइट स्कूल में एडमिशन लिया था।

मिग -21 क्रैश : पायलट मीत कुमार की मौत, कभी कहा था पत्नी से भी ज्यादा करता हूं इसे प्यार

मुंबई प्लेन हादसा : यूपी सरकार बेच चुकी थी चार्टर विमान, सरकारी बने होने पर हो सकती है कार्रवार्इ

International News inextlive from World News Desk