-2031-2040 के बीच की अवधि में अस्तित्व में आएगा रोबोटिक मनुष्य

-भारतीय सूचना प्रौद्योगिकी संस्थान के बीसवें स्थापना दिवस में बोले इसरो के वैज्ञानिक पद्मश्री प्रो. बीएल दीक्षतुलु

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: भारतीय सूचना प्रौद्योगिकी संस्थान का बीसवां स्थापना दिवस पूरे धूमधाम से रविवार को मनाया गया. इसमें संस्थान को नई ऊंचाईयों पर ले जाने का संकल्प लिया गया. मुख्य प्रेक्षागृह में आयोजित कार्यक्रम का उद्घाटन इसरो के प्रतिष्ठित वैज्ञानिक पद्मश्री प्रो. बीएल दीक्षतुलु ने किया. उन्होंने सूचना प्रौद्योगिकी के आने वाले नए रहस्यों पर विस्तृत जानकारी साझा की. उन्होंने कहा कि 2019-30 के दौरान व्यक्तिगत जीवन में प्रयोग होने वाले परिधीय यंत्र पूरी तरह से वायरलेस हो जाएंगे. धरती का 85 प्रतिशत भाग इंटरनेट वायरलेस के द्वारा प्रयोग किया जाएगा.

तेजी से बढ़ रहा संस्थान

इस अवसर पर संस्थान के निदेशक प्रो. पी. नागभूषण ने विद्यार्थियों को अपनी प्रतिभा और कौशल के माध्यम से एक अभिनव भारत बनाने के लिए प्रेरित किया. कहा कि संस्थान अब तेजी से बढ़ रहा है और इसके भविष्य की कोई सीमा नहीं है. इस दौरान मेघा गोयल मेमोरियल गोल्ड मेडल श्रेया पाण्डे को सबसे ज्यादा अंक हासिल करने के लिए प्रदान किया गया. शशांक वर्मा मेमोरियल स्वर्ण पदक ध्रुव अग्रवाल, प्रोफेसर जोएल कोहेन तनौदजी स्वर्ण पदक अक्सा जावेद और सुगंधा को प्रदान किया गया. स्नातक, स्नातकोत्तर और पीएचडी के कार्यकारी पेशेवरो के लिए तैयार किए गए नए अध्यादेश मुख्य अतिथि द्वारा निदेशक के साथ जारी किया गया. समाचार और दृश्य नामक एक समाचार पत्रिका भी मुख्य चरण में लांच की गई.

फ्रिज-कॉफी मशीन के रूप में होंगे रोबोट

-रोबोट के लिए अमेरिका और यूरोप में कानून पेश किया जाएगा जो उनके अधिकारों, जिम्मेदारियों और मनुष्यों के साथ संबंधों का उल्लेख करेगा.

-पर्सनल रोबोट एक फ्रिज या कॉफी मशीन के रूप में आम होंगे.

-सभी कारें कृत्रिम बुद्धि से युक्त होगी और सौर ऊर्जा सभी जरुरतों के लिए सस्ती और सुलभ होगी.

-एक कम्प्यूटर एक मानव मस्तिष्क अनुकरण करने में सक्षम हो जाएगा.

-2031-2040 के बीच की अवधि में रोबोटिक मनुष्य होगा.

कवियों ने छात्रों को खूब लगवाए ठहाके

कार्यक्रम में छात्र जिमखाना के अध्यक्ष शोभित उपाध्याय ने जिमखाना द्वारा की गई गतिविधियों पर प्रकाश डाला. उन्होंने बताया कि 120 कंपनियां पिछले साल संस्थान में आई और छात्रों को 13.2 लाख के औसत पैकेज में चयनित किया. स्थापना दिवस समारोह में छात्रों ने संगीत, नाटक, कवि संगोष्ठी, नृत्य व गायन की प्रस्तुति देकर उपस्थित श्रोताओं को मंत्रमुग्ध कर दिया. इसमें हास्य कवियों ने छात्रों को खूब ठहाके लगवाए. इफरवेसेन्स 2018 की वेबसाइट का उद्घाटन भी निदेशक द्वारा किया गया. साहित्यिक क्लब, म्यूजिक क्लब, डांस क्लब, फाईनआर्ट क्लब, जिमखाना अध्यक्ष एवं अन्य पदाधिकारी, प्लेसमेंट टीम, अपरोक्ष, इफरवेसेन्स के पदाधिकारियों व सदस्यों को पुरस्कृत किया गया. इसके अलावा क्रिकेट, फुटबाल, बास्केटबाल, मैराथन, कैरम, शतरंज, टेबल टेनिस, वालीबॉल स्क्वॉश, बैडमिंटन के विजयी खिलाडि़यों को पुरस्कार प्रदान किया गया.