स्कूल के जरिए करें पार्टिसिपेट
यह टेस्ट 600 स्कूलों में 5 फरवरी को एक साथ कराया जाएगा. वैसे तो आजकल इस तरह के टेस्ट की फीस कॅरियर काउंसलर्स और कंसल्टेंट्स 2000 से 4000 रुपए तक लेते हैं, लेकिन, इंडियन इंटेलीजेंस टेस्ट में पार्टिसिपेट करने का खर्च मात्र 100 रुपए ही आएगा. इस टेस्ट में नॉलेज पार्टनर के तौर पर बंंसल क्लासेज प्रा. लि. और टेक्नोलॉजी पार्टनर के तौर पर आई बॉल जैसी प्रतिष्ठित कंपनियां जुड़ी हैं. इस टेस्ट में भाग लेने के लिए बच्चे अपने स्कूल के माध्यम से रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं. निजी तौर पर स्टूडेंट्स इसमें रजिस्ट्रेशन नहीं करा सकते हैं. स्कूलों के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन की भी व्यवस्था है. इस टेस्ट में क्लास 6 से लेकर 12 तक के बच्चे पार्टिसिपेट करने के लिए एलिजिबल होंगे. केवल साइंस स्ट्रीम के बच्चे ही इस टेस्ट में भाग ले सकते हैं.
दो भागों में होगा टेस्ट
इस टेस्ट को दो भागों में बांटा गया है. पहला भाग एप्टीट्यूड टेस्ट होगा. इसमें बच्चों को 90 मिनट में 150 सवालों के जवाब देने होंगे.
टेस्ट का दूसरा भाग मल्टीपल इंटेलीजेंस टेस्ट का होगा, जिसका मकसद यह पता लगाना होगा कि बच्चे में किस तरह की मेधा (इंटेलीजेंस) है. इस भाग में 40 वैकल्पिक प्रश्न होंगे और इन्हें हल करने के लिए बच्चों के पास 15 मिनट का समय होगा. हर सही जवाब के लिए 3 अंक दिए जाएंगे. हर गलत जवाब के लिए 1 अंक काटा जाएगा. यह टेस्ट हिंदी और अंग्रेजी दोनों भाषाओं में दिया जा सकता है. इस टेस्ट में किसी भी एजूकेशन बोर्ड में पढऩे वाले बच्चे भाग ले सकते हैं. टेस्ट की जानकारी नीचे दी गई वेबसाइट पर भी उपल?ध है:
222.द्बठ्ठस्रद्बड्डठ्ठद्बठ्ठह्लद्गद्यद्यद्बद्दद्गठ्ठष्द्गह्लद्गह्यह्ल.ष्शद्व
ऐसे कर सकते हैं पार्टिसिपेट

४ इस टेस्ट में किसी भी बोर्ड के साइंस स्ट्रीम के बच्चे भाग ले सकते हैं.
४ इस टेस्ट में स्कूल के जरिए ही बच्चे पार्टिसिपेट कर सकते हैं.
४ क्लास 6 से 12 तक के बच्चे पार्टिसिपेट कर सकते हैं.
४ ये टेस्ट हिंदी और इंग्लिश, दो लैंग्वेज में दिया जा सकता है.

National News inextlive from India News Desk