अमेरिका के कंसास शहर में भारतीय इंजीनियर की गोली मारकर हत्‍या,भारतीय जो इस साल विदेशों में मारे गए
पहली घटना कनसास का
खबरों की मानें तो 32 वर्षीय श्रीनिवास कुचिभोतला अमेरिका में एक कंपनी में काम करते थे। गुरुवार को कुछ अज्ञात बदमाशों ने श्रीनिवास की गोली मारकर हत्‍या की दी। श्रीनिवास मूल रूप से हैदराबाद के रहने वाले थे। वह अमेरिकी मल्टीनेशनल कंपनी गार्मिन इंटरनेशनल में काम करते थे जो जीपीएस सिस्टम बनाती है। वह 2014 में इस कंपनी में शामिल हुए थे और उनकी पत्नी सुनयना दुमाला भी कनसास में ही एक टैक्नॉलोजी कंपनी में काम करती हैं। फिलहाल हत्यारे की पहचान 51 साल के एडम के रूप में हुई है जो नौसेना से जुड़ा था। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने इंजीनियर की मौत पर दुख जताते हुए कहा कि वह इस घटना से हैरान हैं। उन्होंने लिखा कि पीड़ित के परिवार को हर तरह की मदद दी जाएगी।

अमेरिका के कंसास शहर में भारतीय इंजीनियर की गोली मारकर हत्‍या,भारतीय जो इस साल विदेशों में मारे गए
दूसरी घटना कैलिफोर्निया की

फरवरी महीने के दूसरे हफ्ते में एक और भारतीय की कैलिफोर्निया में हत्‍या कर दी गई थी। 26 साल के वामशी चंद्र रेड्डी 12 फरवरी रात को काम से घर लौट रहे थे। कि तभी रास्‍ते में उनको गोली मार दी गई थी। वामशी साल 2013 में अमेरिका आए थे। सिलिकॉन वैली यूनिवर्सिटी से मॉस्‍टर्स करने के बाद वामशी नौकरी की तलाश में थे। इस बीच उन्‍होंने एक लोकल स्‍टोर में पार्ट-टाइम करना शुरु कर दिया था। वामशी मूलरूप से तेलंगाना के रहने वाले हैं। बेटे की मौत सुनते ही रेड्डी का परिवार पूरी तरह से टूट गया। हालांकि वामशी के हत्‍यारे को अरेस्‍ट कर लिया गया है।

अमेरिका के कंसास शहर में भारतीय इंजीनियर की गोली मारकर हत्‍या,भारतीय जो इस साल विदेशों में मारे गए
तीसरी घटना जमैका की

तीसरी घटना जमैका की है। फरवरी की शुरुआत में ही जमैका की राजधानी किंग्‍सटन में रहने वाले 25 साल के राकेश तलरेजा की लूटेरों ने गोली मारकर हत्‍या कर दी थी। रिपोर्ट के मुताबिक, कुछ बंदूकधारी राकेश के घर के अंदर घुस आए और उन्‍होंने पहले मोबाइल और घर में रखी नकदी लूट ली और राकेश को तीन गोली मारीं। राकेश की मौके पर ही मौत हो गई। जिसके बाद सभी बदमाश भाग गए।

International News inextlive from World News Desk

International News inextlive from World News Desk