आजाद करने की मांग को लेकर आए दिन अपराध
जकार्ता (एपी)।
एशियन गेम्स में अब कुछ ही दिन बाकी हैं। उस दौरान वहां कोई बाधा ना हो, इसके लिए इंडोनेशियाई पुलिस ने एक अभियान के तहत सख्त उठाते हुए उन सभी छोटे बड़े संदिग्धों को ढेर कर दिया है, जो जकार्ता को आजाद कराने की मांग को लेकर आए दिन अपराध करते है। जकार्ता पुलिस प्रवक्ता प्रबोवो अर्गो युवोनो ने मंगलवार को बताया कि 2 जुलाई से शुरू हुए इस अभियान के बाद से अब तक लगभग 2,000 से अधिक लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है। उन्होंने बताया कि 52 ऐसे संदिग्धों को गोली मारी गई, जो गिरफ्तारी का विरोध कर रहे थे और उनमें से 11 की मौत हो गई है।

बिना संकोच संदिग्धों पर कड़ी कार्रवाई
उन्होंने कहा कि 18 अगस्त से 3 सितंबर तक जकार्ता और पालेमबैंग में होने वाली एशियन खेलों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए चोरों, ठगों और अन्य सड़क अपराधियों के खिलाफ यह दो महीने का एक अभियान चलाया गया है। युवोनो ने कहा, 'यदि कोई संदिग्ध गिरफ्तारी से मना करता है या इसको लेकर कोई विवाद करता है तो पुलिस को बिना संकोच संदिग्धों पर कड़ी कार्रवाई करने का आदेश है।' गिरफ्तारी के अलावा, 1,500 संदिग्ध अपराधियों को पुनर्वास कार्यक्रमों में हिस्सा लेने का निर्देश दिया गया है।

एशियन गेम्स में दम दिखाएगा डीडीयू गोरखपुर यूनिवर्सिटी का स्टूडेंट

CWG और एशियाई खेलों में कुश्‍ती की कैटेगरी में बदलाव से भारतीय पहलवानों को लगा झटका

International News inextlive from World News Desk