एलआईयू से मिली सूचना के बाद एसएसपी ने उठाया सख्त कदम

हथियारों की फैक्ट्री व तस्करी करने वालों पर खास नजर

<एलआईयू से मिली सूचना के बाद एसएसपी ने उठाया सख्त कदम

हथियारों की फैक्ट्री व तस्करी करने वालों पर खास नजर

Meerut.Meerut. कांवड़ यात्रा के दौरान कांवडि़यों की सुरक्षा के लिए एसएसपी ने ब्लू प्रिंट तैयार किया है. यही नहीं एलआईयू के इनपुट्स के बाद एसएसपी राजेश कुमार पांडेय ने अलर्ट घोषित कर दिया है, साथ ही जिले के सभी एसपी, सीओ व इंस्पेक्टर व एसओ को निर्देश दिए हैं कि वे अपने सर्किल में हथियारों की तस्करी करने वालों पर पैनी नजर रखे.

अवैध हथियारों पर नजर

एलआईयू के इनपुट के बाद पुलिस ने अवैध हथियार की तस्करी करने वालों पर खास नजर रखनी शुरू कर दी है. यही नहीं, मेरठ और आसपास के जिलों में चोरी छिपे चल रही अवैध हथियार फैक्ट्रियों की भी धरपकड़ तेज कर दी है.

तो सस्पेंड होंगे थानाध्यक्ष

एसएसपी राजेश कुमार पांडे ने बताया कि जिस क्षेत्र में हथियारों की फैक्ट्री या तस्करी होती मिली, उस क्षेत्र के थाना प्रभारी को तुरंत ही सस्पेंड कर दिया जाएगा. उसके खिलाफ मुकदमा भी दर्ज ि1कया जाएगा.

मिले हैं अवैध हथियार

सूत्रों के मुताबिक जिले के किठौर, लिसाड़ी, ब्रह्मापुरी, लावड़, इंचौली, सरूरपुर, सरधना, मवाना आदि क्षेत्रों में हथियारों की फैक्ट्री चलती हैं. यहां पर हथियारों की तस्करी भी होती है. कई बार पुलिस ने यहां से हथियारों की खेप व कारतूस तक बरामद िकए है.

मुंगेरी पिस्टल की डिमांड

किठौर के राधना गांव में मुंगेर से पिस्टल का सामान लाकर यहां पर उसे मैन्युफैक्चरिंग की जाती है. यहां पर उसे मुंगेरी पिस्टल के नाम से बेचा जाता है. इस पिस्टल की वेस्ट यूपी में सबसे ज्यादा डिमांड रहती है. यह पिस्टल आठ से दस हजार रुपये में आसानी से मिल जाता है.

कांवड़ यात्रा पर खतरा

एसएसपी राजेश कुमार पांडे का कहना है कि एलआईयू के इनपुट्स के बाद कांवडि़यों की सुरक्षा के मद्देनजर अलर्ट जारी किया गया है.