-माध्यमिक विद्यालयों में टीचर्स के 819 पद चल रहे रिक्त, नहीं चल पा रही क्लास

-बोर्ड एग्जाम सात फरवरी से, अब तक 50 परसेंट कोर्स ही हुआ पूरा

varanasi@inext.co.in

VARANASI

यूपी बोर्ड के दसवीं व बारहवीं का एग्जाम सात फरवरी 2019 से निर्धारित है. ऐसे में सभी स्कूल्स को दिसंबर तक कोर्स पूरा करना है. लेकिन इनके कोर्स पूरा करने पर संशय है. कारण कि विभिन्न स्कूल्स में टीचर्स के 819 पद रिक्त चल रहे हैं. ऐसे में सवाल उठ रहा है कि बच्चों का कोर्स कैसे पूरा होगा. बता दें कि माध्यमिक विद्यालयों का नया सेशन एक अप्रैल से ही चल रहा है. छह महीने से अधिक का समय बीत गया है और स्कूल्स में 50 परसेंट कोर्स ही किसी तरह पूरा हो पाया है.

एक महीने रहेगी छुट्टी

अब स्कूल्स को कोर्स पूरा करने के लिए मात्र तीन महीने का समय बचा है. वहीं कुछ विद्यालयों में अब तक अ‌र्द्धवार्षिक परीक्षाएं चल रही हैं. अक्टूबर में दुर्गापूजा तो नवंबर में दीपावली भी पड़ रही है. ऐसे में करीब एक महीने की यहां छुट्टी में बीत जाएगा. दो महीने में 40 परसेंट कोर्स पूरा करना स्कूल्स के लिए चुनौती है. छात्रों का कहना है कि प्रैक्टिकल की भी स्थिति बहुत अच्छी नहीं है.

दिसंबर तक कोर्स करना है पूरा

शैक्षिक पंचांग के अनुसार ज्यादातर स्कूल्स तो 60 परसेंट से अधिक कोर्स पूरे होने का दावा कर रहे हैं. इसकी रिपोर्ट भी विद्यालयों से मांगी गई है. दिसंबर तक हर हाल में कोर्स पूरा करने का निर्देश दिया गया. डीआईओएस डॉ. वीपी सिंह के मुताबिक जरूरत पढ़ने पर एक्स्ट्रा क्लासेस भी संचालित करने का निर्देश दिया गया है. जहां तक टीचर्स की कमी का सवाल है तो जिन विद्यालयों से डिमांड आई थी. उन विद्यालयों में पूल टीचर के तहत सेवानिवृत्त अध्यापकों की नियुक्ति की जा चुकी है. साथ ही रिक्त पदों के लिए शासन को रिपोर्ट भी भेज दिया गया है.

प्वाइंट टू बी नोटेड

पद स्वीकृत नियुक्त रिक्त

लेक्चरर 636 477 159 अध्यापक 1686 1026 660

नोट--88 प्रिंसिपल में से 29 कार्यवाहक व 48 हेडमास्टर्स में से 32 कार्यवाहक हैं.