-पुलिस ने इंटर स्टेट गैंग के सरगना समेत तीन लोगों को किया गिरफ्तार

BAREILLY: चोरी के दौरान पकड़े न जाएं, इसके लिए चोरों ने सेफ तरीका ईजाद किया था. बंद घर का ताला तोड़ने से पहले चोर आस-पड़ोस के घरों की बाहर से कुंडी लगा देते थें, ताकि शोर होने पर कोई जगे तो घर से बाहर न निकल सके. सुभाषनगर थाना पुलिस ने इंटर स्टेट गैंग का भांडाफोड़ करते हुए तीन चोरों को गिरफ्तार किया है. चोर लूट भी करते थे. गैंग का मास्टरमाइंड दिल्ली में भी कई चोरी के मामलों में शामिल रहा था. पुलिस ने सुभाषनगर और सीबीगंज थाना एरिया की चोरी की कई वारदातों का खुलासा करते हुए एक लाइसेंसी पिस्टल, 7 जिंदा कारतूस, करीब सवा 7 लाख की ज्वैलरी, सिलिंडर समेत अन्य सामान बरामद किया है.

चोरी की लाइसेंसी पिस्टल से फायर

एसपी सिटी अभिनंदन सिंह ने प्रेस कांफ्रेंस में बताया कि अंगूरी टांडा रेलवे फाटक के पास चोरों को मुखबिर की सूचना पर गिरफ्तार किया गया है. बदमाशों की पहचान अजय राठौर, सचिन ठाकुर और चंकी गोस्वामी को गिरफ्तार किया है. तीनों सुभाषनगर के रहने वाले हैं. अजय के पास चोरी की पिस्टल थी, जिसने दबिश के दौरान पुलिस पर दो राउंड फायर भी किए. गिरफ्तारी में अहम रोल अंडर ट्रेनी एसआई प्रदीप कुमार का रहा है. अजय तिहाड़ जेल में भी रहा है.

इन चोरी की वारदातों का खुलासा

पुलिस पूछताछ में बदमाशों ने तिरुपति धाम कालोनी में चोरी, रवींद्र नगर से लाइसेंसी पिस्टल चोरी, इटौआ रोड पर चोरी, ग्रेटर कैलाश कॉलोनी में चोरी, माल गोदाम रोड पर महिला से लूट, वैष्णो धाम कॉलोनी में चोरी और रघु वाटिका में चोरी की वारदातों का खुलासा किया है. अजय गैंग का लीडर है. उसके खिलाफ दिल्ली के पटेल नगर, आनंद विहार, बदायूं के उझानी में मुकदमे दर्ज हैं. सचिन और ठाकुर को पहली बार गिरफ्तार किया गया है.

-----------------------------

दो मोबाइल चोर गिरफ्तार

सुभाषनगर पुलिस ने दो मोबाइल चोरों को पब्लिक की मदद से पकड़ा है. करगैना निवासी चोर ओमपाल उत्तराखंड में रहकर काम कर रहा है. उसने सुभाषनगर के युवक का मोबाइल चोरी किया था. युवक के मोबाइल में जीपीएस चल रहा था. गुरुवार को जीपीएस की लोकेशन मिली कि ओमपाल कचहरी पहुंचा है. यहां पर उसे पकड़ लिया गया. उसके बाद पुलिस ने उसके साथी को बुलाकर पकड़ लिया. पुलिस जल्द ही मामले का खुलासा करेगी.