varanasi@inext.co.in

varanasi

अब पूर्वाचल के उद्यमी और किसानों को भी अपने उत्पादन की बिक्री के लिए इंटरनेशनल मार्केट मिलेगा. यहां की पंसद की जाने वाली बनारसी साडि़यां, भदोही के कार्पेट और अनाज सहित सब्जियों को भी एयर कार्गो के थ्रू देश ही नहीं विदेशों में भी भेजा जाएगा. इस दिशा में कदम बढ़ाते हुए लाल बहादुर शास्त्री इंटरनेशनल एयरपोर्ट, बाबतपुर पर रविवार को कार्गो टर्मिनल का इनॉगरेशन हुआ. इसका शुभारंभ एयरपोर्ट अथॉरिटी के चेयरमैन गुरुप्रसाद महापात्रा ने फीता काटकर किया. इस मौके पर डायरेक्टर अनिल कुमार राय, एजीएम कार्गो एसके चौहान, डिप्टी कमांडेट सुब्रत झा व एसके रावत सहित अन्य लोग मौजूद रहे.

पहले नहीं थी सुविधा

लाल बहादुर शास्त्री इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर पहले एयर कार्गो टर्मिनल की सुविधा नहीं थी. लिहाजा बड़े - बड़े लगेज से ज्यादा कम वेट के लगेज ही बुक किये जाते थे. एयरलाइंस कम्पनियां लोड फैक्टर के हिसाब से पैकेट बुक करती थीं. इसलिए अनाज, कार्पेट जैसे सामान यहां से भेजने की गुंजाइश भी कम होती थी. अब कार्गो टर्मिनल खुलने से इस तरह की समस्या समाप्त हो जाएगी.

निर्यातकों से मांगा सुझाव

चेयरमैन ने कार्गो टर्मिनल का उद्घाटन करने के बाद निर्यातकों के साथ बैठक की. इस दौरान उन्होंने एक्सपोर्ट और इम्पोर्ट के क्षेत्र में एयरलाइंस के रोल पर निर्यातकों से सुझाव मांगा. निर्यातकों ने शहर में कार्गो बुकिंग सेंटर की मांग के साथ ही भाड़े में कटौती करने का भी सुझाव दिया.

बाबतपुर से भी उड़ान भरेंगे बोइंग

नई दिल्ली, मुंबई, कोलकाता सहित देश के अन्य दूसरे एयरपोर्ट की तरह बनारस से भी बोइंग विमान उड़ान भरेंगे. इसके लिए विस्तारीकरण कार्य प्रस्तावित है. जमीन अधिग्रहण होते ही फ‌र्स्ट फेज में डेवलपमेंट वर्क शुरू हो जाएगा. यह बातें एएआई के चेयरमैन गुरुप्रसाद महापात्रा ने कहीं. पत्रकारों से मुखातिब होकर उन्होंने कहा कि बढ़ रहे एयर पैसेंजर ट्रैफिक के मद्देनजर फ्लाइट की संख्या और बढ़ाई जा सकती है. उन्होंने कहा कि वर्ष ख्0क्9 तक एयरपोर्ट परिसर में एक और टर्मिनल भवन का निर्माण होगा.