- आशियाना के किला चौराहा पर बीती देररात हुआ हादसा

- कार से बरामद हुई शराब की भरी व खाली बोतलें, सिगरेट व बियर

- कार ड्राइव कर रही महिला गंभीर रूप से घायल, ट्रॉमा सेंटर में एडमिट

lucknow@inext.co.in

LUCKNOW : सिर पर शराब के नशे का सुरूर और हाथ में कार का स्टियरिंग..इसके बाद कार ने ऐसी रफ्तार पकड़ी कि जब तक उसके पहिये थमे तब तक कार के परखच्चे उड़ चुके थे और उस पर सवार एक युवती अपनी जान गवां चुकी थी. आशियाना इलाके में बीती देररात इस कार को मौत की रफ्तार से दौड़ाने वाली महिला भी इस हादसे में गंभीर रूप से घायल हो गई. जानकारी मिलने पर पहुंची पुलिस ने उसे ट्रॉमा सेंटर में एडमिट कराया है.

वापस लौट रही थीं

शारदानगर योजना के रुचि खंड प्रथम स्थित मकान नंबर 2/80 निवासी सफलता पाठक (36) अपने बेटे हर्षित के साथ रहती हैं. सफलता के पति दीपक पाठक का देहांत हो चुका है. वे कॉस्मेटिक का होलसेल व्यवसाय करती हैं. उनके मकान के दूसरे हिस्से में रहकर डालीगंज निवासी दीपिका निषाद उर्फ डॉली (28) सफलता के कारोबार में मदद करती थी. मंगलवार रात सफलता अपनी कार स्विफ्ट डिजायर (यूपी 32एचटी/7707) से डॉली को साथ लेकर कहीं गई थीं. देररात करीब एक बजे सफलता और डॉली वापस घर लौट रही थीं.

कार से नियंत्रण खो दिया

इसी दौरान जब कार किला चौराहा स्थित स्मृति प्लाजा के करीब पहुंची तभी अचानक सफलता ने कार पर से नियंत्रण खो दिया. जिसके बाद कार रोड के किनारे बने साइकिल ट्रैक डिवाइडर को तोड़ते हुए दो गुमटियों से जा टकरायी. कार की रफ्तार इतनी ज्यादा थी कि गुमटियों से टक्कर के बाद भी कार न रुकी और 30 मीटर दूर पेड़ में जोरदार टक्कर मार दी. इसके बाद कार पलटकर घिसटते हुए रोड पर आ गई और डिवाइडर से टकराकर थम गई. इस भीषण हादसे में कार के परखच्चे उड़ गए और उस पर सवार सफलता व डॉली गंभीर रूप से घायल हो गई. राहगीरों ने कड़ी मशक्कत के बाद उन दोनों को बाहर निकाला और पुलिस व 108 एंबुलेंस को इसकी सूचना दी.

कर दिया मृत घोषित

मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों घायलों को इलाज के लिये करीब स्थित लोकबंधु हॉस्पिटल पहुंचाया. जहां डॉक्टर्स ने दीपिका उर्फ डॉली को मृत घोषित कर दिया. वहीं, सफलता की हालत नाजुक देख उसे ट्रॉमा सेंटर रेफर कर दिया. पुलिस ने उसे आनन-फानन ट्रॉमा सेंटर पहुंचाया. जहां सफलता की हालत नाजुक बताई जा रही थी. उधर, पुलिस ने डॉली के शव को उसके परिजनों की मौजूदगी में पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया.

बॉक्स...

नशे में धुत थी दोनों

आशियाना एरिया में बीती देररात हुए इस भीषण हादसे के बाद पुलिस ने कार की तलाशी ली. इस दौरान कार में सफलता का पर्स जिसमें 70 हजार रुपये नकद व दो मोबाइल फोन, दो बोतल शराब, एक खाली बोतल, एक बियर की बोतल, खाली गिलास, सिगरेट के पांच पैकेट बरामद किये. कार से बरामद चीजें खुद-ब-खुद बयां कर रही थीं कि हादसे से पहले कार में शराब का जमकर दौर चला. नशे में धुत होने के बाद सफलता कार ड्राइव कर घर लौट रही थी. इसी दौरान यह हादसा हो गया. इंस्पेक्टर आशियाना रितेंद्र प्रताप सिंह ने बताया कि कार से मिले बैग व रुपये सफलता की बहन सुमन को दे दिये गए हैं.