-मामले को दबाने में जुटी रही विभूतिखंड पुलिस, कड़ी मशक्कत के बाद दर्ज हो सकी एफआईआर

lucknow@inext.co.in
LUCKNOW: विभूतिखंड स्थित रेस्टोरेंट में नशे में धुत बाउंसरों ने पार्टी में शामिल होने गए इंस्पेक्टर को पीट-पीटकर लहूलुहान कर दिया. सूचना के काफी देर बाद पहुंची विभूतिखंड पुलिस मामले को दबाती रही. हालांकि, अधिकारियों के संज्ञान में आने पर पुलिस को एफआईआर दर्ज करनी पड़ी. वहीं, पुलिस घटना के 24 घंटे बीतने के बावजूद एक भी आरोपी को अरेस्ट करने में नाकाम रही है.

मामूली विवाद पर पीटने लगे
विभूतिखंड स्थित इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान के करीब फ्लाइंग सॉसर रेस्टोरेंट में बीती रात एक बर्थ डे पार्टी आयोजित की गई थी. जिसमें शामिल होने इंस्पेक्टर एके सिंह भी पहुंचे थे. पार्टी में शामिल युवकों का डांस करने के दौरान एक बाउंसर से विवाद हो गया. इसी बीच नशे में धुत करीब एक दर्जन अन्य बाउंसर भी वहां पहुंच गए और युवक को पीटने लगे. वहां मौजूद इंस्पेक्टर एके ने अपना परिचय देते हुए इसका विरोध किया तो बाउंसर उन्हें भी पीटने लगे. पार्टी में मौजूद अन्य लोगों ने बीच-बचाव की कोशिश की तो बाउंसरों व अन्य रेस्टोरेंट स्टाफ ने उनके संग भी मारपीट की. इस मारपीट में इंस्पेक्टर एके का सिर फट गया.

मामला दबाने में जुटी पुलिस
घायल होने पर इंस्पेक्टर एके ने 100 नंबर पर इसकी सूचना दी. जानकारी मिलने पर पीवीआर मोबाइल पहुंची और विभूतिखंड पुलिस को घटना की सूचना दी. लेकिन, विभूतिखंड पुलिस करीब एक घंटे बाद मौके पर पहुंची और कार्रवाई करने के बजाय मामला दबाने में जुट गई. आखिरकार एसएसपी कलानिधि नैथानी को विभूतिखंड पुलिस की शिकायत की गई. एसएसपी की फटकार के बाद आखिरकार सुबह चार बजे पीडि़त इंस्पेक्टर एके सिंह को मेडिकल के लिये ले जाया गया और उनकी तहरीर पर एफआईआर दर्ज की गई. देररात इंस्पेक्टर विभूतिखंड मथुरा राय ने बताया कि आरोपियों की अरेस्टिंग का 'प्रोसेस' किया जा रहा है.

मारपीट के लिये बदनाम है रेस्टोरेंट
फ्लाइंग सॉसर रेस्टोरेंट में मारपीट की यह कोई पहली घटना नहीं है. कुछ दिनों पहले ही इसी रेस्टोरेंट में मारपीट की घटना हुई थी. पीडि़तो ने विभूतिखंड पुलिस को घटना की सूचना दी थी लेकिन, पुलिस ने उस मामले में भी कार्रवाई के बजाय मामले को रफा-दफा कर दिया था.