-अवैध तरीके से सड़क 2ाोदने पर किया गया 38 ला2ा का जुर्माना, थर्ड पार्टी द्वारा कराई जाएगी जांच

-बिना परमिशन सड़कों पर कई कंपनियों ने करा दी 2ाुदाई, जांच के बाद अन्य पर 5ाी लगाया जाएगा 5 गुना जुर्माना

kanpur@inext.co.in

KANPUR : शहर में 14वें वित्त आयोग की अवस्थापना निधि से 62 करोड़ के कार्य कराए जा रहे हैं. इसके तहत सड़क निर्माण, इंटरलॉकिंग टाइल्स, नाली निर्माण, सड़क सुधार व फुटपाथ आदि का निर्माण किया जा रहा है. कई कार्य पूरे किए जा चुके हैं. नगर आयु1त द्वारा इसमें जांच बैठाई गई है. इन कार्यो की थर्ड पार्टी जांच कराई जाएगी. बताते चले कि इसमें कई टेलीकॉम और सीएनजी कंपनियों ने बिना परमीशन सड़कों को 2ाोद दिया है, जिसमें कई नई बनी सड़कें 5ाी शामिल हैं.

पांच गुना जुर्माना लगाया गया

अवस्थापना निधि से कराए जा रहे कार्यो के तहत काकादेव, रानीगंज, आरएसपुरम सहित अन्य सड़कों को निर्माण किया जाना था. यहां सीयूजीएल कंपनी ने नगर निगम की बिना परमीशन नई बनी सड़क को 2ाोद दिया. जिस पर नगर निगम ने कंपनी पर 38 ला2ा का जुर्माना लगा दिया. पूर्व में कंपनी ने पाइप लाइन डालने के लिए नगर निगम से परमीशन मांगी थी, जिस पर नगर निगम ने 16 ला2ा जमा करने के लिए कहा था, जिस पर कंपनी ने बिना पैसे जमा किए सड़क 2ाोद दी. वहीं कंपनी पर पांच गुना जुर्माना लगाया गया है. वहीं काकादेव थाने में कंपनी के 2िालाफ एफआईआर 5ाी दर्ज कराने के लिए तहरीर दी गई है. मामले में जोन-6 के अवर अ5िायंता राम अवध यादव से चीफ इंजीनियर मनीष सिंह ने रिपोर्ट मांगी है.