कानपुर। इंडियन प्रीमियर लीग के 12वें सीजन के लिए चेन्नई सुपर किंग्स ने अपनी टीम में न्यूजीलैंड के तेज गेंदबाज स्काॅट कुग्लेज को शामिल किया है। स्काॅट बुधवार को ही चेन्नई टीम का हिस्सा बने। उन्हें तेज गेंदबाज लुंगी एन्गिडी की जगह टीम में रखा गया। सीएसके ने अपने अफिशल टि्वटर अकाउंट पर ट्वीट करके इस बात की जानकारी दी है। स्काॅट काफी होनहार खिलाड़ी हैं, इसमें कोई संदेह नहीं। मगर कुछ साल पहले इस कीवी गेंदबाज पर दुष्कर्म जैसे गंभीर आरोप लगे थे।

भारत के खिलाफ मैच खेलने पर हुआ था विवाद
27 साल के स्काॅट कुग्लेज ने सिर्फ चार टी-20 और दो वनडे मैच खेले हैं। हाल ही में टीम इंडिया जब न्यूजीलैंड दौरे पर थी तो स्काॅट को भारत के खिलाफ कीवी टीम में जगह दी गई थी। जिसको लेकर फैंस ने काफी गुस्सा जताया था। ये मैच् ईडन पार्क में खेला गया था जहां कीवी दर्शक मैच के दौरान 'वेक अप न्यूजीलैंड क्रिकेट, मीटू' लिखा पोस्टर लहरा रहे थे। कीवी टीम के इन समर्थकों का निशाना सीधे न्यूजीलैंड क्रिकेट बोर्ड पर था जो दुष्कर्म के आरोपी को टीम में खिला रहे थे।


चार साल पहले चला था केस
न्यूजीलैंड की एक वेबसाइट स्टफ के मुताबिक, स्काॅट पर 2015 में एक लड़की के साथ दुष्कर्म करने का आरोप लगा था। पीड़िता का कहना था कि स्काॅट ने उन्हें हैमिटन के ईस्ट फ्लैट में बुलाकर उनके साथ गलत हरकत की। खैर मामला कोर्ट पहुंचा। 2016 में जजों के बीच आपसी सहमित नहीं बन पाई जिसके बाद केस बीच में ही लटक गया था। मगर 2017 में इस केस की फिर सुनवाई हुई जहां कोर्ट ने स्काॅट को निर्दोष करार दे दिया। उस वक्त इस फैसले का कुछ लोगों ने विरोध किया था क्योंकि स्काॅट ने कबूला था कि, लड़की ने उन्हें सिर्फ दो बार 'ना' बोला था, उससे ज्यादा बार नहीं। यही नहीं स्काॅट ने अगले दिन लड़की से माफी भी मांगी थी।
ipl 2019 : csk में शामिल हुआ वो गेंदबाज,जो गंदी हरकत के चलते जेल जाने से बचा था
टीम में वापसी पर फैंस नाराज
कोर्ट से बरी होने के बाद स्काॅट की न्यूजीलैंड क्रिकेट टीम में फिर वापसी हुई और भारत के खिलाफ मौजूदा टी-20 सीरीज में वह कीवी टीम में शामिल हुए। जिसको लेकर दर्शकों में काफी आक्रोश था। हालांकि न्यूजीलैंड क्रिकेट बोर्ड ने इस मामले पर कोई आधिकारिक बयान नहीं दिया था।

जब IPL में एक गेंद पर लगे दो छक्के, दर्शक रह गए हक्के-बक्के

IPL में कोहली का स्टंप उखाड़कर दिखाया दम, कीमत है विराट से 85 गुना कम