-आईआरसीटीसी एक सितंबर से ई- टिकट पर दी जाने वाली मुफ्त ट्रैवल इंश्योरेंस की सुविधा कर देगा बंद

-इंश्योरेंस चाहने वालों को देना होगा एक्स्ट्रा चार्ज

varanasi@inext.co.in

VARANASI

आईआरसीटीसी की तरफ से फ्री में दी जा रही सुविधा के लिए अब शुल्क देना होगा. अगले महीने से रेलवे का ई-टिकट बुक कराने पर आपको पहले की अपेक्षा ज्यादा पेमेंट करना होगा. दरअसल आईआरसीटीसी की ओर से एक सितंबर से ई-टिकट पर दी जा रही फ्री ट्रैवल इंश्योरेंस की सुविधा को बंद किया जा रहा है. तब के बाद यदि कोई पैसेंजर इंश्योरेंस लेना चाहेगा तो उसे रेलवे का ई-टिकट बुक कराते समय ट्रैवल इंश्योरेंस के लिए अलग से पेमेंट करना होगा.

सात महीने से मिल रही सुविधा

अभी रेलवे का ई-टिकट लेने वाले सभी पैसेंजर्स को फ्री में इंश्योरेंस की सुविधा आईआरसीटीसी दे रहा है. लेकिन एक सितंबर से यात्री की मर्जी पर निर्भर करेगा कि वह इंश्योरेंस लेना चाहता है या नहीं. बता दें कि आईआरसीटीसी की ओर से दिसंबर 2017 से फ्री इंश्योरेंस की सुविधा दी जा रही है. इसके साथ ही आईआरसीटीसी ने डेबिट कार्ड से टिकट बुकिंग पर लगने वाले चार्ज को भी खत्म कर दिया था. लेकिन इसमें से इंश्योरेंस के लिए अब एक सितंबर से चार्ज देना होगा.

सभी क्लास को सुविधा

फिलहाल आईआरसीटीसी के ई-टिकट पर इंश्योरेंस की सुविधा सभी क्लास में जर्नी करने वाले पैसेंजर्स को दी जा रही है. इसके तहत अधिकतम 10 लाख रुपये का कवर दिया जाता है. यात्रा के दौरान यदि पैसेंजर की मौत हो जाती है तो ऐसे में 10 लाख रुपये देने का प्रावधान है. पार्शल डिसएबिलिटी होने पर 7.5 लाख रुपये देने का प्रावधान है. वहीं इंजर्ड होने वाले को दो लाख रुपये देने का प्रावधान है.

5 साल से ऊपर के बच्चे कवर में

आईआरसीटीसी के इंश्योरेंस प्लान में पांच साल से ऊपर वाले बच्चे ही कवर होते हैं. ट्रैवल इंश्योरेंस की सुविधा देने के लिए आईआरसीटीसी ने आईसीआईसीआई लोम्बर्ड जनरल इंश्योरेंस, रॉयल सुंदरम जनरल इंश्योरेंस और श्रीराम जनरल इंश्योरेंस से हाथ मिलाया है. इसके तहत एक टिकट पर 92 पैसे का पेमेंट करना होगा, टैक्स सहित यह करीब एक रुपये होगा. नए नियम के तहत एक सितंबर से ई-टिकट पर इंश्योरेंस चाहने पर यह पेमेंट पैसेंजर को करना होगा.