- अल्मोड़ा में सिर्फ 5.5 मिमी जबकि बागेश्वर में 236 मिमी बारिश

- अल्मोड़ा और पौड़ी में सामान्य से कम बारिश, नहीं हो पाई धान की रोपाई

- देहरादून में सामान्य से 5 परसेंट ज्यादा हुई बारिश

देहरादून, उत्तराखंड में मानसून बेतरतीब बरस रहा है. कहीं अतिवृष्टि के चलते आपदा जैसे हालात हैं, तो कहीं सूखे जैसी स्थिति. बारिश के आंकड़ों पर नजर डालें तो कुमाऊं के बागेश्वर और गढ़वाल के चमोली जिले में सामान्य से ज्यादा बारिश हुई है. इधर पौड़ी और अल्मोड़ा जिले में सूखे जैसे हालात पैदा हो रहे हैं. राज्यभर में अगर औसत बारिश की बात करें तो अब तक बारिश सामान्य से 10 परसेंट कम रही है.

जिलों में भी बेतरतीब बारिश

राज्य की जिलों में भी बारिश के मामले में स्थितियां अलग-अगल हैं. चमोली जिले में 11 जुलाई तक 260 मिमी बारिश हो चुकी थी, जो नॉर्मल से 35 प्रतिशत ज्यादा है. जबकि गैरसैंण क्षेत्र में 50 मिमी से भी कम बारिश हुई है. अन्य जिलों में भी इसी तरह की स्थितियां बनी हुई हैं.

धान की रोपाई प्रभावित

राज्य के नौ जिलों के ज्यादातर क्षेत्रों में बारिश की कमी के कारण धान की रोपाई अब तक नहीं हो पाई है. आमतौर पर 14 जून के बाद उत्तराखंड में मानसून पूर्व की बौछारें पड़ने लगती हैं और 20 जून के आसपास मानसून सक्रिय हो जाता है. ऐसी स्थिति में जून आखिर तक धान की रोपाई का काम निपट जाता है. इस साल अब तक कम बारिश के कारण ज्यादातर हिस्सों में रोपाई नहीं हो पाई है.

अल्मोड़ा व पौड़ी में स्थिति खराब

अल्मोड़ा और पौड़ी जिलों में बारिश सबसे कम हुई है, ऐसे में यहां खेती-बागवानी प्रभावित हुई है. मौसम विभाग के आंकड़ों के अनुसार 11 जुलाई तक इन दोनों जिलों में सामान्य से 59 परसेंट कम बारिश दर्ज हुई है.

अन्य जिलों में बारिश की स्थिति

जिला सामान्य से कितनी कम (परसेंट में)

ऊधमसिंह नगर 55 परसेंट

चंपावत 17

टिहरी 13

हरिद्वार 5

नैनीताल 9

रुद्रप्रयाग 7

उत्तरकाशी 28

बागेश्वर में पानी ही पानी

सबसे ज्यादा बारिश वाले जिलों की बात करें तो अब तक बागेश्वर जिले में नॉर्मल से 71 परसेंट ज्यादा बारिश हो चुकी है. जबकि चमोली में 35 परसेंट ज्यादा बारिश दर्ज की गई है. देहरादून में अब तक नॉर्मल में 5 परसेंट और पिथौरागढ़ में 3 परसेंट ज्यादा बारिश हुई है.

कहां कितनी बारिश

जिला सामान्य वास्तविक

अल्मोड़ा 223.8 91.9

बागेश्वर 223.8 382.5

चमोली 192.8 260.2

चम्पावत 374.3 312.5

देहरादून 385.0 402.8

पौड़ी 262.0 108.1

टिहरी 239.2 206.9

हरिद्वार 217.9 206.6

नैनीताल 373.4 340.3

पिथौरागढ़ 481.9 497.4

रुद्रप्रयाग 383.1 357.5

यूएस नगर 283.0 128.3

उत्तरकाशी 261.8 188.7

राज्य औसत 300.3 269.1

इस बार बारिश असामान्य है. गैरसैंण में अब तक 400 मिमी बारिश हो जानी चाहिए थी, लेकिन मात्र 61 मिमी हुई है. जबकि, अल्मोड़ा जिले में भी बुरे हाल हैं. फसल बुरी तरह प्रभावित हुई हैं.

पुरुषोत्तम असनोड़ा, गैरसैंण

कुछ जिलों में बारिश का औसत सामान्य से काफी कम है. हालांकि यह असामान्य स्थिति नहीं कही जा सकती, लेकिन इसके बावजूद जिन जिलों में आधी से भी कम बारिश हुई है, वहां दिक्कत हो सकती है.

-बिक्रम सिंह, निदेशक मौसम विज्ञान केन्द्र