lucknow@inext.co.in
LUCKNOW : अमरोहा से दबोचे गए आईएसआईएस के हरकत-उल-हर्ब-ए-इस्लाम के आतंकी मध्य प्रदेश में बड़ी आतंकी घटना की साजिश रच रहे थे। उनका मकसद मध्य प्रदेश की खंडवा जेल से भागे सिमी आतंकियों के एनकाउंटर का बदला लेना था। इसी के मद्देनजर दबोचे गए आतंकी अपने नेटवर्क को मजबूत करने के लिए तैयारी शुरू कर दी थी। यूपी एटीएस व एनआईए की पूछताछ में दबोचे गए आतंकी मुफ्ती सुहैल ने यह खुलासा किया है।

कई युवकों के संपर्क में था

एटीएस सूत्रों के मुताबिक, पूछताछ में आरोपी मुफ्ती सुहैल ने बताया कि वह मध्य प्रदेश के भोपाल, रतलाम व खंडवा के कई युवकों के संपर्क में था। इस काम में उसकी मदद मौलाना साकिब भी कर रहा था। बताया कि सुहैल व साकिब एनकाउंटर में मारे गए सिमी के सभी आठ आतंकियों की मौत का बदला लेना चाहते थे। बताया गया कि सुहैल व साकिब के इस कुबूलनामे के बाद एनआईए ने मध्य प्रदेश में उनके संपर्कियों की तलाश शुरू कर दी है। माना जा रहा है कि जल्द ही मध्य प्रदेश में छापेमारी की जा सकती है।

एनकाउंटर में ढेर किये थे सिमी के आठ आतंकी
30 अक्तूबर 2016 की रात को मध्य प्रदेश के जिला खंडवा सेंट्रल जेल में बंद सिमी के आठ आतंकी अमजद, जाकिर हुसैन सादिक, मोहम्मद सालिक, मुजीब शेख, महबूब गुड्डू, मुहम्मद खालिद अहमद, अकील व माजिद वहां सुरक्षा कर्मियों की हत्या कर जेल तोड़ कर भाग निकले थे। पीछा करते हुए पुलिस ने कुछ घंटे बाद ही सभी आतंकियों को एनकाउंटर में ढेर कर दिया था।

National News inextlive from India News Desk