हमास पर हवाई हमला
यरुशलम (एएफपी)।
अपने सैनिकों पर हमला और प्रदर्शनकारियों द्वारा इमारतों को क्षतिग्रस्त किये जाने के बाद इज़राइल ने गुरुवार को गाजा में हमास पर हवाई हमला शुरू कर दिया है। सेना ने एक बयान में कहा, 'इजराइल की सेना ने उत्तरी गाजा पट्टी में हमास से जुड़े सभी चीजों को अपना लक्ष्य बनाया और उन्हें नष्ट कर दिया।' इसके अलावा फिलीस्तीनी सुरक्षा सूत्रों ने भी पुष्टि की कि हवाई हमलों में हमास को टारगेट किया गया, लेकिन अभी तक इसमें किसी के आहत होने की खबर नहीं है।

गोलीबारी के बाद हमला

बता दें कि गाजा में इज़राइली सैनिकों पर हमला किये जाने के बाद बुधवार को टैंकों से हमास के तीन जगहों को निशाना बनाया गया। इसके अलावा खूब गोलीबारी भी की गई। गौरतलब है कि अमेरिका ने सोमवार को तेल अवीव से अपना दूतावास शिफ्ट कर यरुशलम में खोलने का फैसला किया था। अमेरिका के इस कदम से फिलिस्तीनी भड़क गए और इजराइली सैनिकों के साथ मारपीट कर दी। इस दौरान इजराइली बलों की गोलीबारी में गाजा में कम से कम अब तक 60 लोग मारे गए और लगभग 2400 से अधिक लोग घायल हुए।

7 दिसंबर को इजरायल की राजधानी
आपको बता दें कि पिछले वर्ष 7 दिसंबर को ट्रंप ने यरुशलम को इजरायल की राजधानी के तौर पर मान्‍यता दी थी। हालांकि उनके इस फैसले की कई देशों ने निंदा की थी और इसको तनाव बढ़ाने वाला कदम बताया था। गौरतलब है कि इजराइल के तेल अवीव में अमेरिका को मिलाकर कुल 86 देशों का दूतावास हैं। लेकिन यरुशलम पर चल रहे विवाद को लेकर अब तक वहां किसी भी देश ने अपना दूतावास नहीं बनाया है। यरुशलम पर फिलिस्तीन और इजरायल दोनों अपना अधिकार जमाते हैं और इसी मद्दे को लेकर विवाद है।

यरुशलम में भारी हिंसा प्रदर्शन के बाद फिलिस्तीन ने अमेरिका से बुलाया अपना राजदूत

ईयू चीफ ने कहा, जिसके ट्रंप जैसे मित्र हों तो उन्हें दुश्मनों की क्या जरूरत

International News inextlive from World News Desk