लंदन (पीटीआई)। लॉर्ड्स में भारत और इंग्लैंड के बीच खेले जा रहे दूसरे टेस्ट में भारत की पहली पारी 107 रन पर सिमट गई। इंग्लैंड के तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन ने 5 विकेट लेकर भारतीय बल्लेबाजों को घुटने टेकने पर मजबूर कर दिया। एंडरसन का तो यहां तक कहना है कि लॉर्ड्स में इस समय जो स्थिति है ऐसे में इंग्लिश गेंदबाज दुनिया की किसी भी टीम को ऑलआउट कर सकते हैं। टेस्ट करियर में 27वां बार पांच या उससे अधिक विकेट लेने वाले तेज गेंदबाज एंडरसन ने माना कि उनकी टीम ने पिच का भरपूर फायदा उठाया। भारतीय बल्लेबाज हमारी गेंदों का सामना नहीं कर पाए और जल्द ही विकेट गंवा बैठे। 36 साल के एंडरसन ने आगे यह भी कहा, 'मुझे लगता है कि हमने दूसरे दिन काफी अच्छी गेंदबाजी की। ऐसी कंडीशन में हम दुनिया की मजबूत से मजबूत बैटिंग वाली टीम को भी आउट कर सकते हैं। हमने बमुश्किल ही खराब गेंद फेंकी होगी। वे (भारतीय बल्लेबाज) हमारी गेंदों पर लंबे शॉट नहीं लगा पाए जिससे पूरे दिन उन पर दबाव बना रहा। मुझे नहीं लगता कि ऐसी कंडीशन में सिर्फ भारतीय बल्लेबाजी ही लड़खड़ाई, हर किसी को यहां बल्लेबाजी करने में दिक्कत हो सकती थी।'
भारत ही नहीं कोई भी टीम लॉर्ड्स में जल्दी सिमट जाती,सामने आई वजह
बिना किसी प्रयास के मिले विकेट
भारत के खिलाफ 20 रन देकर 5 विकेट लेने वाले एंडरसन कहते हैं, 'सच बताऊं तो दूसरे दिन अगर खेल रद होता तो मुझे काफी निराशा होती क्योंकि यह ऐसी पिच थी जिस पर गेंदबाजी करने में काफी मजा आया। इंग्लैंड में आपको इस तरह की कंडीशन बहुत ही कम मिलती है, जहां गेंदबाज के हाथ से छूटते ही हवा में गेंद हरकत करती है। सबसे बड़ी बात तो यह है, यहां आपको कुछ अतिरिक्त प्रयास नहीं करना था। बस सही लाइन-लेंथ पर गेंदबाजी करिए बाकी काम खुद हो जाएगा। आपको बता दें बारिश के बाद लॉर्ड्स की पिच तेज गेंदबाजी के लिए काफी मददगार हो गई। इसका फायदा इंग्लैंड को खूब मिला, उन्होंने इस मैच में क्रिस वोक्स के रूप में एक पेसर अतिरिक्त खिलाया। विराट कोहली का विकेट वोक्स ने ही लिया था।
भारत ही नहीं कोई भी टीम लॉर्ड्स में जल्दी सिमट जाती,सामने आई वजह
सिर्फ कोहली ही नहीं सभी को करना होता है आउट
एंडरसन कहते हैं उन्हें कोहली का सामना करना अच्छा लगता है। वह दुनिया के नंबर एक बल्लेबाज हैं और मुझे ऐसे अच्छे खिलाड़ियों के सामने गेंदबाजी करने में मजा आता है। इससे आपका टेस्ट भी हो जाता है कि बतौर गेंदबाज आप कितना बेहतर कर सकते हैं। हालांकि दुर्भाग्यवश मैं कोहली का विकेट नहीं ले पाया, मगर हमारा मुकाबला आगे सीरीज में जारी रहेगा। क्या टीम इंडिया विराट कोहली के भरोसे चलती है, इस बात को एंडरसन ने पूरी तरह से नकार दिया। उनका कहना है, 'यह मुझे नहीं लगता, हम मैदान में जब उतरते हैं तो हमारा सामना सभी 11 खिलाड़ियों से होता है। उस टीम (भारत) में कई अच्छे प्लेयर्स हैं। विराट को इसलिए तवज्जो मिलती है क्योंकि वह कप्तान हैं। वह एक अच्छे लीडर और दुनिया के नंबर वन बल्लेबाज हैं। मगर पिछला इतिहास देखें तो भारत के टॉप 7 बल्लेबाज 90 परसेंट से ज्यादा रन बनाते आए हैं। ऐसे में सिर्फ कोहली को आउट कर हम मैच जीतने की नहीं सोचते।'

Ind vs Eng : 107 रन पर ऑलआउट हुई टीम इंडिया, न कोहली चले न पांड्या

यह भारतीय बल्लेबाज कभी नहीं हुआ जीरो पर आउट

Cricket News inextlive from Cricket News Desk