कानपुर। अगर आप ऐसा सोचते हैं कि जन्माष्टमी जैसे मौके पर भगवान कृष्ण के मंदिर से कोई भी व्यक्ति कुछ चोरी नहीं कर सकता, तो ऐसा नहीं है। दरअसल, मिड-डे के मुताबिक, दो अज्ञात लोगों ने कथित रूप से रविवार को ठाणे के जंबली नाका में स्थित गोवर्धन वैष्णव मंदिर हवेली से कुछ नकद और सोने-चांदी की चीजें चुरा ली, जिसकी कीमत 50 लाख रुपये के करीब बताई जा रही है। क्राइम ब्रांच और ठाणे नगर पुलिस ने इस मामले में अभी तक तीन लोगों को हिरासत में लिया है।

चतुराई से हुई चोरी

पुलिस अधिकारियों के मुताबिक, यह घटना तड़के सुबह की है, जब मंदिर के पुजारी ने रविवार को मंदिर में प्रवेश किया, तो उन्होंने देखा कि दरवाजा टूटा है और दान पेटी भी गायब है। ये सब देखने के बाद उन्होंने तुरंत पुलिस को फोन किया। ठाणे नगर पुलिस स्टेशन के सीनियर पुलिस इंस्पेक्टर रविकांत मालेकर ने कहा, 'हमें सुबह 7 बजे फोन आया। पुजारी और उनका परिवार मंदिर परिसर में ही रहता है, हालांकि, चोरी इतनी चतुराई से हुई थी कि उन्हें इसका एहसास नहीं हुआ। लुटेरे पीछे की ओर से नेट स्टील के दरवाजे को काटकर मंदिर में घुसे थे।'

1 किलो सोने का गहना चोरी
मालेकर ने कहा, 'कीमती सामानों को चोरी करने से पहले चोरों ने सीसीटीवी के तार भी काट दिए। चुराए गए सामानों में कुछ नकद, 1 किलो सोने के गहने और कुछ चांदी के सामान हैं।' बता दें कि क्राइम ब्रांच और ठाणे नगर पुलिस ने क्षेत्र के अन्य स्थानों से सीसीटीवी फुटेज के आधार पर तीन संदिग्धों को हिरासत में लिया है। फिलहाल उनकी पहचान को सार्वजनिक नहीं किया गया है।

आरक्षण की मांग में हिंसा पड़ी महंगी, कोर्ट ने हार्दिक पटेल संग तीन लोगों को दो साल की जेल की सजा सुनाई

अपने इन 5 नए वीड‍ियो से मौज करने को बोले वायरल वीड‍ियो स्‍टार हार्दि‍क पटेल, पढ़ें 5 खास बातें

Crime News inextlive from Crime News Desk