ढाका (आईएएनएस)। बांग्लादेश में पहले अंडरग्राउंड रेलमार्ग के निर्माण के लिए जापान लोन देने पर सहमत हो गया है। प्रोजेक्ट डायरेक्टर मोहम्मद सैदुल हक ने गुरुवार को बताया कि मास रैपिड ट्रांजिट (MRT-1) परियोजना के तहत ढाका में 26.6 किलोमीटर लंबी रेल लाइन का निर्माण दो चरणों में किया जाएगा, फिलहाल उसका डिजाइन तैयार किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि जापान इस प्रोजेक्ट के लिए लोन देने पर सहमत हो गया है। इकोनॉमिक रिलेशन्स डिवीजन के एडिशनल सेक्रेटरी शाहिदुल इस्लाम ने बताया कि जापान की ओर से इस प्रोजेक्ट के लिए बांग्लादेश को यह लोन इस साल जून तक मिलने की संभावना है।

पहले भी मिल चुका है लोन

कॉन्ट्रैक्ट के अनुसार, जापान की तरफ से बांग्लादेश को 2.5 बिलियन डॉलर लोन मिलेगा, जो एमआरटी -1 सहित पांच अलग-अलग परियोजनाओं पर खर्च किया जाएगा। बता दें कि जापान पिछले वित्तीय वर्षों की तुलना में इस साल अधिक लोन दे रहा है। एमआरटी -1 परियोजना का पहला हिस्सा हवाई अड्डा मार्ग होगा और यह 16.4 किमी लंबा होगा। इसके बाद दूसरा भाग 10.2 किमी को कवर करेगा। बता दें कि ऐसा पहली बार नहीं है कि जापान किसी परियोजना के लिए बांग्लादेश को लोन दे रहा है, इससे पहले वह ऊर्जा क्षेत्र को विकसित करने सहित कई अन्य कामों के लिए भी लोन दे चुका है।

पीएम मोदी ने बांग्लादेश में चुनाव जीतने पर हसीना को दी बधाई, कहा जारी रहेगा समर्थन

16 दिसंबर के ही दिन 1971 में भारत ने जीता पाकिस्तान से युद्ध, हुआ बांग्लादेश बनने का ऐलान

International News inextlive from World News Desk