छ्वन्रूस्॥श्वष्ठक्कक्त्र: लोयोला स्कूल की इंग्लिश शिक्षिका सह रजिस्ट्रार जयंती शेषाद्री का चयन राष्ट्रपति शिक्षक पुरस्कार के लिए हुआ है. सोनारी आदर्श नगर फेज 11 में रहनेवाली जयंती सम्मान के लिए चुनी जाने पर गदगद हैं. जयंती ने बताया कि वह दक्षिण भारतीय परिवार से हैं. उनका जन्म जमशेदपुर में हुआ और पढ़ाई भी उनकी यही पर हुई है. उन्होंने बताया कि ग्रेजुएशन तक की शिक्षा के लिए उन्हें संघर्ष करना पड़ा था. राष्ट्रपति शिक्षक पुरस्कार के लिए चयनित होने पर सुबह से ही उनके घर पर बधाई देने वालों का तांता लगा रहा. अपार्टमेंट में पत्रकारों से बातचीत करते हुए उन्होंने कहा कि आज की शिक्षा को बच्चों पर केंद्रित होना चाहिए न कि शिक्षकों पर. उन्होंने कहा कि बच्चे स्टेज में पढ़ाएं और टीचर उनका मार्गदर्शन करें. उन्होंने कहा कि पढ़ाने के लिए सरल तरीके का प्रयोग किया. उन्होंने बताया कि पुरस्कार के लिए नाम भेजने के लिए उनको स्कूल के फादर पायेस जी ने प्रेरित किया था. जयंती ने इस पुरस्कार के लिए स्कूल और परिवार दोनों को श्रेय दिया. जयंती के पति एमके शेषाद्री टाटा स्पंज आयरन में सप्लाई चेन प्रोक्यूरमेंट एंड मेंटेनेंस के चीफ हैं. एक बेटी संध्या गूगल कैंप्स के लिए बंगालुरु में कार्यरत है वहीं बेटा आयरलैंड में डाटा एनालाइसिस से पीजी कर नौकरी कर रहा है.

संक्षिप्त परिचय

नाम : जयंती शेषाद्री

प्रारंभिक शिक्षा (10वीं) : लिटिल फ्लावर स्कूल टेल्को

12वीं तक शिक्षा : राजेंद्र विद्यालय साकची

ग्रेजुएशन : मद्रास यूनिवर्सिटी

पीजी : आंध्र यूनिवर्सिटी

बिहार स्पंज आयरन कंपनी में योगदान : 1988, 1998 तक एचआर में काम किया

केरला समाजम मॉडल स्कूल में योगदान : 1998 में, यहां 2009 तक रजिस्ट्रार और इंग्लिश शिक्षिका के रूप में कार्य किया.

लोयोला स्कूल में योगदान : 2009 से अब तक, रजिस्ट्रार व इंग्लिश शिक्षिका के रूप में कार्य कर रही हैं.