किसने की कितनी क्रॉस वोटिंग
बिहार में हुए राज्यसभा चुनावों के दौरान जमकर क्रॉस वोटिंग हुई. बिहार में 2 सीटों के लिए हुए राज्यसभा उपचुनावों में जेडियू के लिए खुशखबरी आई है. जमकर हुई क्रॉस वोटिंग में बताया जा रहा है कि 18 से अधिक विधायकों ने क्रॉस वोटिंग की. इसके अलावा सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार जेडीयू और कांग्रेस के ग्रुपों से भी क्रॉस वोटिंग की ख़बर है. चुनाव में दोनों सीटों पर जेडीयू के कैंडिडेट्स ने जीत दर्ज की. जेडीयू के गुलाम रसूल और पवन वर्मा ने बिहार राज्यसभा उपचुनाव में जीत हासिल की. एक उम्मीदवार को 123 और दूसरे को 122 वोट मिले हैं. बताया जा रहा है कि इस क्रास वोटिंग में जेडीयू के 15 विधायक और दो कांग्रेस और आरजेडी के एक विधायक शामिल है.

नए बदलाव की उम्मींद
लोकसभा चुनावों में बुरा हाल होने के बाद जेडियू की सरकार के लिए ये कुछ खुशी के पले हैं. तमाम विरोधों और मुश्किलों के मात देते हुए राज्यसभा उपचुनावों में जेडीयू की फतह हुई है. उसके दोनों कैंडिडेट्स गुलाम रसूल बलियावी और पवन वर्मा चुनाव जीत गए हैं. गुलाम रसूल बलियावी को 122 वोट जबकि उनके प्रतिद्वंद्वी साबिर अली को 107 वोट मिले. वहीं पार्टी के एक कैंडिडेट शरद यादव पहले ही निर्विरोध विजयी घोषित किए जा चुके हैं. वहीं बीजेपी निर्दलीय चुनाव लड़ रहे साबिर अली और अनिल शर्मा को समर्थन दे रही है. इस परिणाम के बाद बिहार की राजनीति में नए बदलाव देखने को मिलेंगे.

लालू का समर्थन
जेडीयू की इस जीत पर राष्ट्रीय जनता दल के चीफ लालू प्रसाद यादव ने दोनों सीटों पर जेडीयू कैंडिडेट के समर्थन का ऐलान किया था. आरजेडी चीफ लालू यादव ने कहा था कि हमने बीजेपी को हराने के लिए जेडीयू कैंडिडेट के समर्थन का फैसला लिया है. उन्होंने सीधे तौर पर कहा कि दोनों निर्दलीय कैंडिडेट्स को बीजेपी ने खड़ा किया है. साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि जेडीयू को समर्थन सिर्फ राज्यसभा चुनाव के लिए है.

National News inextlive from India News Desk