लाहौर/नई दिल्ली (पीटीआई)। भारत का मोस्ट वांटेड आतंकवादी और जैश-ए-मोहम्मद का प्रमुख मसूद अजहर जिंदा है। एक पाकिस्तानी मीडिया ने रविवार को मसूद के परिवार के बेहद करीबी सूत्रों के हवाले से यह जानकारी दी। पाकिस्तानी मीडिया 'जियो उर्दू' ने अपनी रिपोर्ट में दावा किया कि JeM नेता की मौत की खबर पूरी तरह से झूठी है। बता दें कि यह रिपोर्ट सोशल मीडिया पर उड़ी उन अफवाहों के बाद आई है, जिसमें बताया गया कि JeM के संस्थापक मसूद अजहर की मौत हो गई है। हालांकि, मसूद के मरने की कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई थी। पाकिस्तानी चैनल ने बताया कि नाम ना बताने की शर्त पर मसूद के परिवार के एक बेहद करीबी व्यक्ति ने कहा कि वह जिंदा है।  

एनडीए सरकार ने किया था रिहा
पाकिस्तान सरकार की ओर से अजहर के मौत को लेकर कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है। अजहर की मौत को लेकर सवाल किये जाने पर पाकिस्तान के फेडरल सूचना मंत्री फवाद चौधरी ने कहा, 'मुझे इस समय कुछ भी पता नहीं है।' बता दें कि पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के बहावलपुर के रहने वाले अजहर ने 2000 में जैश-ए-मोहम्मद का गठन किया था। 50 वर्षीय अजहर को 1999 में एनडीए सरकार ने हाईजैक हुए इंडियन एयरलाइंस के विमान IC-814 के बंधकों के बदले में रिहा किया था। अजहर 2001 में संसद पर हुए हमले का मास्टरमाइंड, जम्मू-कश्मीर विधानसभा में हुए आत्मघाती हमले, पठानकोट में स्थित भारतीय वायुसेना के ठिकानों पर हमला और पुलवामा टेरर अटैक मामले में मुख्य आरोपी है।

सच का पता लगा रहे अधिकारी
इस बीच, नई दिल्ली में खुफिया एजेंसियां ​​पाकिस्तान में अजहर की मौत के बारे में सोशल मीडिया पर उड़ीं अफवाहों का पता लगाने की कोशिश कर रही हैं। भारतीय अधिकारियों का कहना है कि वह सिर्फ यह जानते हैं कि अजहर का इलाज पाकिस्तान के आर्मी हॉस्पिटल में चल रहा है, इसके अलावा उनके पास कोई भी जानकारी नहीं है। बता दें कि पुलवामा में पाकिस्तान समर्थित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद (जेएम) द्वारा 14 फरवरी को किए गए आतंकी हमले में सीआरपीएफ के 41 जवान शहीद हो गए। इसके बाद भारतीय वायुसेना ने कार्रवाई के रूप में मसूद के कैंप को पाकिस्तान में पूरी तरह से ध्वस्त कर दिया।

पाक विदेश मंत्री ने किया स्वीकार, हमारे देश में है मसूद अजहर

International News inextlive from World News Desk