शहर के गिरिजाघरों में मनाया गया गुड फ्राइडे

विभिन्न गिरिजाघरो में सभा प्रार्थना हुई।

MEERUT । प्रभु यीशु मानवता की रक्षा के लिए हंसते-हंसते सूली पर चढ़ गए थे। प्रभु यीशु के बलिदान दिवस को इसाई समाज ने गुड फ्राइडे के रूप में मनाया। गिरिजाघरों में प्रार्थना सभाएं हुई, वही प्रभु के गीत गाए गए।

हुई प्रार्थना सभाएं

शुक्रवार को रुड़की रोड स्थित सेंट पॉल्स मैथडिस्ट चर्च में विशेष प्रार्थना हुई, प्रार्थना सभा का नेतृत्व रेव। डीपी लाल ने किया। उन्होंने कहा कि प्रभु यीशु मानव जाति के उद्धार के लिए मानव देह धारण करके इस जगत में आए और समस्त मानव जाति के कल्याण के लिए प्राणों का बलिदान दिया। वहीं बच्चा पार्क स्थित सेंट थॉमस चर्च में फादर द्वारा विशेष प्रार्थना सभा का आयोजन करवाया गया। सेंट मैथोडिस चर्च में फादर ने विशेष प्रार्थना सभा के बाद प्रभु के बलिदान की कहानी सुनाई। मिशन कम्पाउंड में भी गुड फ्राइडे मनाया गया।

बलिदान को याद किया

शास्त्रीनगर स्थित इवैन्जलीकल क्रिश्चियन चर्च मेरठ में गुड फ्राइडे यानी शुभ शुक्रवार को विधिवत ढंग से मनाया गया। मुख्य पादरी डैनियल मसीह ने कहा कि यीशु मसीह ने समस्त मानव जाति के पापों को लेकर पर स्वयं को बलिदान कर दिया था। साकेत स्थित सेंट लुक्स चर्च में दोपहर तीन बजे विशेष प्रार्थना हुई। इसमें पादरी राज ने श्रद्धालुओं को प्रभु यीशु के संदेशों को सुनाया। ईव्ज चौराहा स्थित चर्च में भी गुड फ्राइडे पर प्रार्थना सुभा हुई।