700 मरीज वायरल से पीडि़त पहुंच रहे जिला अस्पताल

2000 मरीज रोजाना पहुंच रहे हैं मेडिकल कॉलेज में

Meerut. मौसम की बदली करवट ने लोगों को बीमार करना शुरू कर दिया है. बारिश की वजह से होने वाली ठंड और गर्मी के कारण लोगों में तमाम बीमारियों का असर दिखाई दे रहा है. बुखार, खांसी, कोल्ड के साथ ही जोड़ों में दर्द की समस्या काफी तेजी से सामने आ रही है. जिला अस्पताल में ही वायरल से पीडि़त करीब 700 मरीज रोजाना पहुंच रहे हैं. जबकि मेडिकल कॉलेज में पहुंचने वाले ऐसे मरीजों की संख्या करीब 2000 है.

यह है स्थिति

डॉक्टर्स के मुताबिक मौसम बदलने के कारण अभी सिर्फ सामान्य बुखार के मरीज ही आ रहे हैं. चिकिनगुनिया, डेंगू जैसी वैक्टर बार्न डिजीज का अभी कोई असर नहीं दिखाई दे रहा है. जिला अस्पताल में जहां 80 प्रतिशत मरीज वायरल, जोड़ों के दर्द आदि की शिकायत लेकर पहुंच रहे हैं. मेडिकल कॉलेज की भी यही ि1स्थति है.

बच्चे भी बीमार

जिला अस्पताल और मेडिकल कॉलेज में बच्चों में कपकपी के साथ तेज बुखार के लक्षण दिखाई दे रहे हैं. इसके अलावा तेज खांसी, जुकाम भी बच्चों में तेजी से फैल रहा है. इसके अलावा गले में दर्द की शिकायत भी बनी हुई है. जिला अस्पताल के बच्चा वार्ड में हर रोज 20 से 25 बच्चे एडमिट होने के लिए पहुंच रहे हैं जबकि ओपीडी का आंकड़ा 200 से 250 के बीच है.

वायरल, बुखार, खांसी और कोल्ड तेजी से लोगों को जकड़ रहा है. बुजुर्ग मरीजों में जोड़ों के दर्द की समस्या भी सामने आ रही है. मौसम में बदलाव की वजह से ऐसा हो रहा है. इस मौसम में लापरवाही नहीं बरतनी चाहिए .

डॉ. सुनील कौशिक, सीएमएस, जिला अस्पताल

वार्ड इन दिनों फुल चल रहे हैं. बीमारी के लक्षण दिखाई देते ही डॉक्टर से संपर्क करें और सावधानी बरतें. बुखार, खांसी और खुजली में बचाव जरूरी है. बाहर का कुछ भी खाने से बचें.

डॉ. संजीव कुमार, एमएस, मेडिकल कॉलेज

मरीज के पेट में दर्द की समस्या बनी हुई है. डॉक्टर्स का कहना है कि बाहर का दूषित खाना खाने की वजह से बीमारी फैल गई है.

नूरजहां

बुखार के साथ ही पैरों में तेज दर्द है. पांच दिनों से बुखार, खांसी, जुकाम बना हुआ है. अभी ग्लूकोज ही दिया जा रहा है.

अलका

बारिश की उम्मीद

मौसम विभाग द्वारा रविवार से मौसम का मिजाज बदलने का अनुमान जताया जा रहा है. जिससे लोगों को गर्मी से काफी हद तक राहत मिल सकती है. कृषि विश्वविद्यालय के मौसम वैज्ञानिक डॉ एन. सुभाष के मुताबिक आने वाले दिनों में बारिश की संभावना बनी हुई है. जिसके बाद अचानक से तापमान में बढ़ोतरी होगी. मौसम में अचानक ऐसे बदलाव लोगों को बीमार कर सकते हैं. मौसम विभाग में शानिवार को अधिकतम तापमान 31.8 डिग्री सेल्सियस व न्यूनतम तापमान 25.8 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया. इसके अलावा अधिकतम आ‌र्द्रता 92 व न्यूनतम आ‌र्द्रता 74 डिग्री रिकार्ड की गई.