-- 734 करोड़ से प्रॉयरिटी सेक्शन में आईआईटी से मोतीझील के बीच बनाए जाने हैं 9 मेट्रो स्टेशन और वायाडक्ट

-टेक्निकल के बाद अब लखनऊ मेट्रो रेल कार्पोरेशन ने फाइनेंशियल बिड भी खोली, जल्द निर्माण की जगी उम्मीद

kanpur@inext.co.in

KANPUR: कानपुर मेट्रो के प्रॉयोरिटी सेक्शन के 734 करोड़ के टेंडर खुल गए हैं. टेक्निकल बिड के बाद अब लखनऊ मेट्रो रेल कार्पोरेशन ने इसकी फाइनेंशियल बिड भी खोल दी है. फाइनेंशियल बिड में दो कम्पनियों के बीच कड़ी टक्कर चल रही है. लखनऊ मेट्रो रेल कार्पोरेशन के ऑफिसर खोली गई इस फाइनेंशियल बिड के इवैल्युशन में जोर-शोर से लगी हैं.

734 करोड़ के टेंडर

कानपुर मेट्रो सिटी के दो रूट पर दौड़नी है. इसमें आईआईटी से फूलबाग, घंटाघर होते हुए नौबस्ता और सीएसए यूनिवर्सिटी से बर्रा-7 शामिल हैं. पहले चरण में प्रॉयोरिटी सेक्शन आईआईटी से मोतीझील के बीच मेट्रो दौड़ाई जानी है. इसकी जिम्मेदारी लखनऊ मेट्रो रेल कार्पोरेशन को सौंपी है. एलएमआरसी ने प्रॉयोरिटी सेक्शन के 9 किलोमीटर के वायाडक्ट व 9 मेट्रो स्टेशन के लिए जून में 734 करोड़ के टेंडर कॉल किए थे.

फाइनेंशियल बिड भी खोली गई

लखनऊ मेट्रो रेल कार्पोरेशन ने पहले टेक्निकल बिड खोली थी. पर कानपुर मेट्रो प्रोजेक्ट को सेंट्रल गवर्नमेंट से अप्रूवल न मिलने की वजह से फाइनेंशियल बिड ओपेन नहीं की गई थी. पर इधर अप्रूवल को सेंट्रल गवर्नमेंट में तेजी से कार्रवाई होते देख एलएमआरसी ने फाइनेंशियल बिड भी खोल दी है.

अनुभवी है दोनों कम्पनियां

एलएमआरसी ऑफिसर्स के बीच फाइनेंशियल बिड में मेसर्स एफकॉन्स इन्फ्रास्ट्रक्चर और मेसर्स टीपीएल-जीवाईआई ज्वाइंट वेंचर के बीच टक्कर चल रही है. हालांकि अभी फाइनेंशियल बिड में सबसे कम रेट किसी कम्पनी के हैं, इसका खुलासा लखनऊ मेट्रो रेल कार्पोरेशन नहीं किया है. एलएमआरसी के ऑफिसर्स के मुताबिक दोनों ही कम्पनियां मेट्रो रेल के क्षेत्र में अनुभवनी है. कई शहरों में मेट्रो प्रोजेक्ट्स पर काम कर चुकी है. फाइनेंशियल बिड में सबसे कम रेट वाली कम्पनी को ही टेंडर अवार्ड किया जाएगा. पर इसके लिए सेंट्रल गवर्नमेंट से कानपुर मेट्रो प्रोजेक्ट को अप्रूवल का इंतजार करना पड़ेगा.

............

प्रॉयोरिटी सेक्शन-- आईआईटी से मोतीझील

लंबाई-- 9 किलोमीटर

मेट्रो स्टेशन- आईआईटी, कल्याणपुर रेलवे स्टेशन, एसपीएम हॉस्पिटल, कानपुर यूनिवर्सिटी, गुरूदेव चौराहा, गीता नगर, रावतपुर, हैलट हॉस्पिटल व मोतीझील

प्रोजेक्ट कॉस्ट-- 734 करोड़

फाइनेंशियल बिड में कम्पनी-- मेसर्स एफकॉन्स इन्फ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड, मेसर्स टीपीएल-जीवाईआई ज्वाइंट वेंचर

....

कानपुर मेट्रो के प्रॉयोरिटी सेक्शन की फाइनेंशियल बिड भी खुल गई है. इसका इवैल्यूएशन किया जा रहा है. जिससे सेंट्रल गवर्नमेंट से प्रोजेक्ट को अप्रूवल मिलते ही काम शुरू कराया जा सके. -- कुमार केशव, एमडी लखनऊ मेट्रो रेल कार्पोरेशन

.....