-रास्ता रोककर पिकअप ड्राइवर की धुनाई, डेढ़ घंटे तक किया जाम

BAREILLY: इज्जतनगर थाना अंतर्गत विलयधाम के पास कंावडि़ये को टक्कर मारने के बाद विवाद हो गया. कांवडि़यों ने पिकअप ड्राइवर को रास्ता रोककर घेर लिया और फिर उसकी जमकर पिटाई की. यही नहीं कांवडि़यों ने पिकअप में तोड़फोड़ की और पिकअप पलट दिया. कांवडि़यों ने हंगामा करते हुए रोड जाम कर दिया. जिसके बाद पुलिस फोर्स मौके पर पहुंची और मामले को शांत कराया. ड्राइवर को पास के प्राइवेट हॉस्पिटल में एडमिट कराया गया है. वहीं बिथरी चैनपुर के उमरिया में कांवड़ के रूट को लेकर हंगामा हो गया. खबर लिखे जाने तक फोर्स मौजूद थी.

पिकअप लेकर भागने की कोशिश

हाफिजगंज के काशी धर्मपुर का जत्था जल लेकर कछला से वापस लौट रहा था. इसी दौरान मुडि़या अहमद नगर में पेट्रोल पंप के पास मुर्गी का दाना लेकर जा रही पिकअप ने ओवरटेक करने के दौरान एक कांवडि़या रजनीश को टक्कर मार दी. टक्कर लगने के बाद पिकअप ड्राइवर वहां से भाग निकला लेकिन कुछ दूर चलने के बाद विलयधाम के पास कांवडि़यों ने बाइक से जाकर पिकअप को रोक लिया और ड्राइवर की पिटाई करना शुरू कर दिया. यही नहीं गुस्से में पिकअप में तोड़फोड़ की और पिकअप पलट दी.

पुलिस के साथ भी बद्तमीजी

पिकअप में तोड़फोड़ की सूचना पर पुलिस फोर्स मौके पर पहुंची और कांवडि़यों को समझाने की कोशिश की. इस दौरान कांवडि़ये पुलिस से भी उलझ गए. पुलिस ने इसकी वीडियो भी बनाई गई है. पुलिस की मानें तो कांवडि़यों ने काफी बद्तमीजी की है. बवाल के चलते करीब डेढ़ घंटे तक पीलीभीत रोड पर जाम लग गया. जिसकी वजह से पब्लिक को काफी परेशानी झेलनी पड़ी. सीओ सिटी सेकेंड अशोक कुमार मीणा भी मौके पर पहुंचे और फिर किसी तरह लोगों को शांत कर रवाना किया. पिकअप ड्राइवर पीर बहोड़ा निवासी मोनिश को हॉस्पिटल में एडमिट कराया गया है. पुलिस वीडियो फुटेज के आधार पर कार्रवाई करेगी.

2--------------

रूट पर जाने से रोका तो कांवडि़यों वापस लौटे

-विवादित रूट से न जाने देने पर कांवडि़यों ने किया हंगामा

-5 थानों की फोर्स के साथ, एसपी सिटी, एसपी रुरल पहुंचे

BAREILLY: सावन के तीसरे सोमवार से पहले ही बिथरी चैनपुर के उमरिया में कांवडि़यों के रूट को लेकर विवाद हो गया. कांवडि़यों के गुजरने का दूसरे पक्ष ने विरोध किया . खजुरिया ब्रह्मानान के कांवडि़ये जैसे ही विवादित रूट से जाने लगे तो तिराहे पर ही पुलिस ने रोक दिया और पुलिस रिकॉर्ड में दर्ज रूट से जाने के लिए बोला. इससे कांवडि़ये नाराज हो गए और पुलिस के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी. बवाल की सूचना पर 5 थानों की फोर्स मौके पर पहुंची. एसपी सिटी अभिनंदन सिंह, एसपी रुरल व अन्य अधिकारी भी मौके पर पहुंचे. इस दौरान बीजेपी विधायक पप्पू भरतौल के बेटे विक्की भरतौल भी पहुंचे. जबरन कांवड़ निकालने की कोशिश हुई लेकिन पुलिस फोर्स के सामने किसी की नहीं चली. जिसके बाद कांवडि़ये नाराज होकर वापस चले गए. हालांकि बाद में कांवडि़ये जल लेने के लिए रवाना हो गए.

खजुरिया ब्रह्मानान का था जत्था

खजुरिया ब्रह्मानान गांव के कांवडि़ये महंत महाराज सिंह के नेतृत्व में कांवड़ लेकर जल लेने कछला जा रहे थे. कांवडि़यों जिस रूट से जा रहे थे. उस पर दूसरे पक्ष के अधिकांश लोग रहते हैं. दूसरे पक्ष ने जत्था निकलने का विरोध जताया. दूसरे पक्ष का कहना है कि इस रूट पर कांवडि़ये नहीं जाते हैं. दो दिन से इसको लेकर वार्ता भी चल रही थी. जब पुलिस ने रिकार्ड चेक किया तो कांवडि़ये दो वर्ष से नए रास्ते से जा रहे थे. पुलिस भी इसी रास्ते से जाने के लिए कह रही थी लेकिन कांवडि़यों का कहना है कि वह परम्परागत रूट से ही जाएंगे.

5 थानों की फोर्स मौके पर जमा

कांवडि़ये परम्परागत रूट से जा रहे थे कि उससे पहले ही तिराहा पर पुलिस ने उन्हें रोक दिया और पुलिस रिकार्ड में दर्ज रूट से जाने के लिए कहा. इस पर कांवडि़ये भड़क गए और हंगामा करना शुरू कर दिया. मामला बिगड़ता देख बिथरी चैनपुर इंस्पेक्टर गोविंद सिंह भी पहुंचे. कांवडि़यों का आरोप है कि इंस्पेक्टर ने उन्हें जाने से रोका है. हंगामा बढ़ता देख आसपास के 5 थाना प्रभारियों को फोर्स के साथ मौके पर बुला लिया गया. एसपी सिटी अभिनन्दन सिंह पहुंचे और कांवडि़यों से बात की लेकिन कांवडि़ये मानने को तैयार नहीं हैं.

3--------------------------

एडीजी सादी वर्दी में निकले, पुलिस के काम को देखा

BAREILLY: सोमवार को पुलिस की अलर्टनेस को चेक करने के लिए एडीजी जोन प्रेम प्रकाश स्वंय निकल पड़े. वह अकेले सादी वर्दी में निकले तो किसी भी पुलिसकर्मी को इसकी भनक नहीं लगी. वह पुलिसकर्मियों के आसपास ही चौराहों पर खड़े होकर उनके काम पर नजर रखने लगे. कुछ देर रुकने के बाद वह अगले चौराहे पर निकल गए. इस दौरान एक चौराहे से जुलूस निकला तो वह भी उस दौरान मौजूद रहे. कई एरिया में निरीक्षण करने के बाद वह आवास पर लौट आए.

पल-पल पर अधिकारी रखे नजर

सावन के दो सोमवार छिटपुट विरोध से निपट गए. अभी दो सोमवार बचे हुए हैं. इन दोनों सोमवार पर अधिक से अधिक कांवडि़ये गुजरेंगे. जिसकी वजह से पुलिस पूरी तरह से अलर्ट हो रखी है. विवादित रूट पर किसी को भी नहीं निकलने दिया जा रहा है. खैलम, भगवानपुर धीमरी, मसीतगंज गौटिया, देवरनियां समेत करीब आधा दर्जन विवाद सामने आ चुके हैं. एडीजी के साथ-साथ आईजी भी सभी विवाद की पल-पल खबर ले रहे हैं. थानों की फोर्स के साथ दो कंपनी से अधिक जवान तैनात किए गए हैं.