कांवड़ यात्रा

- सुरक्षा संबंधी निर्देशों पर अमल को होगी बैठक

Meerut: 20 जुलाई से शुरू हो रही कांवड़ यात्रा को लेकर तीन राज्यों की सरकारें एक साथ मिलकर सुरक्षा का ब्लू प्रिंट तैयार करेंगी. ईद के बाद यूपी, उत्तराखंड और हरियाणा के आला अफसर बैठककर कांवड़ यात्रा के दौरान सुरक्षा इंतजामों पर चर्चा करेंगे. हालांकि अभी इस बैठक की तिथि और स्थान नियत नहीं है.

चुनौती है कांवड़ यात्रा

वेस्ट यूपी की ऐतिहासिक कांवड़ यात्रा लॉ एंड आर्डर के लिए चुनौती से कम नहीं है. करीब एक सप्ताह तक चलने वाली इस धार्मिक यात्रा में देश के विभिन्न राज्यों से करीब 3.25 करोड़ श्रद्धालु हिस्सा लेते हैं. इस यात्रा में श्रद्धालुओं को सुरक्षा मुहैया कराने की सर्वाधिक जिम्मेदारी हरियाणा, उप्र और उत्तराखंड सरकार की है. हर वर्ष की भांति इस वर्ष की यात्रा से पहले तीनों राज्यों के पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी एकसाथ बैठक करेंगे.

जल्द तय होगा स्थान

सिटी मजिस्ट्रेट केशव कुमार ने बताया कि बैठक को लेकर अभी स्थान सुनिश्चित नहीं है. बैठक कभी सहारनपुर हो जाती है तो कभी मेरठ या कहीं और. ईद के बाद ही बैठक का स्थान और नियत होने की संभावना है. सुरक्षा और यात्रा प्रबंधन के मद्देनजर आयोजित बैठक में विभिन्न राज्यों के पुलिस-प्रशासनिक अधिकारियों के अलावा विभागों के प्रमुख भी मौजूद रहेंगे.

इनसेट

नहीं पहुंचे एडीजी

ईद और कांवड़ यात्रा की सुरक्षा के मद्देनजर तैयारियों की समीक्षा करने मेरठ आ रहे एडीजी लॉ एंड आर्डर दलजीत चौधरी का कार्यक्रम अचानक निरस्त हो गया. एडीजी को बुधवार पुलिस लाइन में मेरठ-सहारनपुर मंडल के आला पुलिस अधिकारियों के साथ बैठक कर ईद पर सुरक्षा की तैयारी और कांवड़ यात्रा सुरक्षा और प्रबंधन पर बैठक करनी थी. एसएसपी जे रविंद्र सिंह ने उनके दौरे के निरस्त होने की पुष्टि की.