दिल्ली क्राइम ब्रांच ने मेरठ के नूरमोहम्मद से पकड़े 20 पिस्टल

पाकिस्तान-नेपाल से आ रहे थे हथियार, रार्धना गांव से जुड़ रहे हैं तार

Meerut. कैराना-नूरपुर का उपचुनाव नजदीक है तो वहीं लोकसभा चुनाव भी 2019 में होने जा रहा है. ऐसे में हथियारों की बड़ी खेप पाकिस्तान और नेपाल से मेरठ समेत वेस्ट यूपी के शहरों में लाई जा रही थी. एक ओर चुनाव की सरगर्मी बढ़ रही है तो वहीं क्रिमिनल्स की चुनाव को लेकर अपनी तैयारी चल रही है.

यह है मामला

दिल्ली की क्राइम ब्रांच ने मध्यप्रदेश के सेंधवा से बच्चन सिंह उर्फ बच्चू को पकड़ा. उसके पास से कारतूस मिले. बच्चन सिंह ने पूछताछ में बताया कि उसने मेरठ के किठौर थानाक्षेत्र के गांव रार्धना निवासी नूर मोहम्मद को 20 पिस्टल हाल ही में बेची है. इसके बाद क्राइम ब्रांच ने मेरठ में छापा मारा और नूर मोहम्मद को इन पिस्टलों के साथ पकड़ लिया. पुलिस के उस समय होश फाख्ता हो गए जब मालूम चला कि नूर मोहम्मद का कैराना के मुल्तान से कनेक्शन है. कुख्यात मुल्तान जेल में है और कैराना एवं आसपास आपराधिक वारदातों को जेल से ही अंजाम दे रहा है.

कैराना-नूरपुर उपचुनाव के मद्देनजर खुफिया एजेंसियां सक्रिय हो गई हैं. पुलिस नूर मोहम्मद की कुंडली खंगाल रही है तो वहीं खुफिया एजेंसियों ने मेरठ में जांच-पड़ताल शुरू कर दी है.

कुछ चर्चित मामले

2 मई 2018

अटारी बॉर्डर पर कैराना के पंजीठ निवासी मुल्तान और सहारनपुर निवासी नाजिर अहमद को एक पिस्टल एवं मैगजीन के साथ पकड़ा था. वह कूकर में पिस्टल लेकर पाकिस्तान से आ रहे थे.

7 मार्च 2014

कैराना व कांधला के छह लोगों को अटारी बॉर्डर पर ही पकड़ा. इसके पास से 11 पिस्टल और 22 मैगजीन पंजाब पुलिस व बीएसएफ को मिले. यह भी पाकिस्तान से लेकर आए थे.

16 अगस्त 2016

बुलंदशहर के खुर्जा निवासी सगे भाई रेहाना व कुर्बान अंसारी दिल्ली की क्राइम ब्रांच ने नेपाल व पाकिस्तान से पिस्टल लाते हुए पकड़ा था. इनसे 10 पिस्टल व 157 कारतूस मिले थे.

7 दिसंबर 2017

दिल्ली पुलिस ने मेरठ के किदवईनगर निवासी इंतजार को पाकिस्तान से पिस्टल की खेप लाते हुए पकड़ा था.

दिल्ली क्राइम ब्रांच के इनपुट लिए गए हैं. रार्धना के नूर मोहम्मद और कैराना के मुल्तान का कनेक्शन भी खंगाला रहा है. हमने भी गोपनीय रूप से जांच शुरू कर दी है कि पिस्टल कहां से मेरठ में आ रहे थे

शिवराम यादव, एसपी क्राइम