बंगलुरु (एएनआई)। कर्नाटक में राजनीतिक संकट पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कांग्रेस के दिग्गज नेता गुलाम नबी आजाद ने भाजपा सरकार के साथ साथ राज्यपालों के आचरण पर भी उंगलियां उठा दी हैं। उनका आरोप है कि केंद्र सरकार राज्यों में विपक्षी सरकार को गिराने के लिए राज्यपालों का इस्तेमाल कर रही है। बंगलुरु में मंगलवार को कांग्रेस नेताओं के साथ बैठक के बाद  गुलाम नबी आजाद ने कहा, 'हर राज्य में विपक्षी सरकार का दबदबा बढ़ता जा रहा है और उनकी सरकार को गिराने के लिए केंद्र राज्यपाल का उपयोग कर रहा है। अरुणाचल प्रदेश से लेकर कर्नाटक तक, गवर्नर के पक्ष में दलबदलू नेता हैं और वह कांग्रेस से बाहर आने में उनकी मदद भी करते हैं। हम इस मौके पर पूरे देश से लोकतंत्र को बचाने की अपील करते हैं।'

कर्नाटक संकट : बागी विधायक विधानसभा स्पीकर के फैसले के खिलाफ पहुंचे सुप्रीम कोर्ट


बैठक में यह नेता भी थे मौजूद
उन्होंने कहा, 'राष्ट्रीय स्तर पर वर्तमान भाजपा सरकार और राज्य स्तर पर राज्यपाल जिस तरह से अपना आचरण दिखा रहे हैं, उससे पूरा देश आक्रोशित है। इस तरह से देश में लोकतंत्र खत्म हो रहा है।' बता दें कि बैठक में आजाद के अलावा केसी वेणुगोपाल, सिद्धारमैया, दिनेश गुंडू राव, मल्लिकार्जुन खड़गे, ईश्वर खंद्रे और जमीर अहमद और अन्य कांग्रेसी नेता मौजूद थे।

11 विधायकों ने दिया इस्तीफा
कर्नाटक में शनिवार को गठबंधन के 11 विधायकों के इस्तीफा देने के बाद सरकार सकंट में आ गई है।वहीं जेडीएस के विधायक एच विश्वनाथ ने शनिवार को दावा किया था कि 14 विधायकों ने संयुक्त रूप से अध्यक्ष केआर रमेश कुमार को इस्तीफा सौंप दिया है और उनसे स्वीकार करने का अनुरोध किया है। ऐेसे में सत्तारूढ़ गठबंधन को इस्तीफे स्वीकार हो जाने पर अपना बहुमत खोने का खतरा है।

National News inextlive from India News Desk