एसआईटी ने जुटाए सुबूत
कासगंज कोतवाली में दर्ज मुकदमों की जांच के लिये गठित एसआईटी ने तमाम उपद्रव प्रभावित जगहों का दौरा कर सीसीटीवी फुटेज और अन्य सुबूत जुटाए। आईजी डॉ। संजीव गुप्ता ने बताया कि तिरंगा यात्रा के बाद बवाल, आगजनी और चंदन की हत्या के बाद से गुरुवार तक 11 मुकदमे दर्ज किए जा चुके हैं। पुलिस 41 आरोपियों को जेल भेज चुकी है, जेल भेजे गए आरोपियों में चिन्हित किये गए 17 आरोपी भी शामिल हैं। इसके अलावा शांति भंग में 81 अन्य को भी जेल भेजा गया है।
कासगंज हिंसा: चंदन हत्याकांड का मुख्य आरोपी सलीम जेल रवाना,अब तक 122 अरेस्‍ट
सीएम ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग कर जाने हालात
चंदन के मुख्य हत्यारोपी सलीम को बुधवार शाम कोर्ट में पेश करने के बाद रात को जेल भेज दिया गया। उसके दोनों भाई वसीम व नसीम, बड्डू नगर निवासी आसिफ कुरैशी उर्फ हिटलर की तलाश में दबिश दी जा रही हैं। हिटलर ही तिरंगा यात्रा के दौरान बड्डू नगर में बवाल करने में सबसे आगे था। उधर, सीएम योगी आदित्यनाथ ने जिलाधिकारी आरपी सिंह से वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए हालात की जानकारी ली। साथ ही डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने भी स्थिति की समीक्षा की।

National News inextlive from India News Desk